Breaking News
Home / Documents / डुप्लीकेट आरसी कैसे बनवाएं । How to get duplicate RC

डुप्लीकेट आरसी कैसे बनवाएं । How to get duplicate RC

इस समय सड़कों पर चेकिंग का दौर चल रहा है। आप गाड़ी के सारे पेपर्स साथ में लेकर चलें। अगर आपकी गाड़ी की रजिस्ट्रेशन कॉपी यानि आरसी खो गई है या फट गई है तो तत्काल इसका डुप्लीकेट प्राप्त कर लें। खो जाने पर आपको एफआईआर और फट जाने पर ओरिजनल कॉपी को जमाकर इसका डुप्लीकेट हासिल करना होगा। आरसी का डुप्लीकेट हासिल करना बेहद आसान है। हम आपको पूरे तरीके की जानकारी विस्तार से देते हैं।

form 26

आरसी यानि रजिस्ट्रेशन बुक पर आपकी गाड़ी की डिटेल अंकित होती है, यात्रा के समय इसे साथ रखना जरूरी है। इसमें गाड़ी के नंबर के साथ ही इंजन नंबर, चेसिस नंबर और वाहन स्वामी के बारे में सारी डिटेल अंकित होती है। इस पर लिखा होता है कि गाड़ी का रजिस्ट्रेशन कब हुआ था और इसकी वैद्यता कब तक है। अगर आप बिना आरसी के गाड़ी चलाते पकड़े गए तो भारी जुर्माना भरना पड़ेगा। इसलिए आप इसकी डुप्लीकेट कॉपी हासिल कर लें।

डुप्लीकेट आरसी बनवाने की पूरी जानकारी । How to get duplicate RC

  • आरसी की दूसरी प्राप्त करने के लिए आपको इसकी वजह बतानी होगी। अगर आरसी फट गई है तो इसकी प्रति लगानी होगी।
  • अगर आरसी आपसे खो गई है तो आपको पहले इसकी रिपोर्ट निकट के पुलिस थाने में दर्ज करवानी होगी। पहले तो थाने पर जाकर मोहर लगवानी होती थी लेकिन अब काम आसान हो गया है।
  • आप किसी भी साइबर कैफे व जन सेवा केंद्र पर जाकर ऑनलाइन एफआईआर दर्ज करवा सकते हैं। यह काम बेहद आसान है।
  • आप अपने मोबाइल से भी यह काम कर सकते हैं। बस आपको अपने राज्य की पुलिस की वेबसाइट का एड्रेस पता करना होगा।
  • हर राज्य में पेपर्स के खो जाने पर एफआईआर दर्ज करवाने की प्रक्रिया अलग-अलग निर्धारित है। आपको एफआईआर दर्ज करवाने के लिए पूरी डिटेल भरनी होगी।
  • आरसी कैसे खोई, कहां पर गुम हुई, गुम होने का दिन, समय भी भरना होगा। ऑनलाइन एफआईआर सिर्फ गुम होने पर ही दर्ज किया जाता है।
  • अगर आरसी या अन्य दस्तावेज चोरी हो गए हैं तो आपको थाने पर जाकर इसकी लिखित शिकायत दर्ज करवाके एफआईआर की प्रति हासिल करनी होगी।
  • अगर सिर्फ आरसी चोरी हुुआ है और बाकी का कीमती सामान सुरक्षित है तो भागदौड़ से बचने के लिए आप गुम हो जाने की एफआईआर ही दर्ज करवाएं।
  • इसके बाद आपको उस जिले के आरटीओ व एआरटीओ ऑफिस में संपर्क करना होगा जहां आपकी गाड़ी रजिस्टर्ड है।
  • आपको ऑफिस से फार्म 26 प्राप्त करना होगा। फार्म 26 को आप ऑनलाइन भी डाउनलोड कर सकते हैं। हम आपको फार्म काे डाउनलोड करने का लिंक आर्टिकल के आखिर में देंगे।
  • इसमें आपको सारी जानकारियां दर्ज करनी होंगी। इसके साथ ही पहचान व आवास के प्रमाण पत्र को भी लगाना होगा। आप प्रमाण पत्र के तौर पर आधार कार्ड, पैन कार्ड, एलआईसी की कॉपी आदि लगा सकते हैं। आरटीओ ऑफिस अपने खुद के जारी किए ड्राइविंग लाइसेंस को पहचान पत्र के रूप में नहीं मानता है। इसलिए डीएल को संलग्न ना करें।
  • आपको अपनी एक फोटो भी लगानी होगी और आफिस में जाकर फीस का भुगतान करना होगा। फीस को ऑनलाइन भी जमा किया जा सकता है। ऑनलाइन भुगतान की प्रक्रिया थोड़ी लंबी है। इसलिए आपको ऑफिस में जाकर फीस का भुगतान करना ही होगा।
  • वही प्रमाण पत्र लगाएं जिसका पता आपकी आरसी में दर्ज हो। पता में अंतर होने पर डुप्लीकेट आरसी जारी नहीं होगी।
  • आपको रजिस्ट्रेशन अथॉरिटी के समक्ष उपिस्थित होना होगा। अगर आपकी गाड़ी कामर्शियल है तो आपको नोटरी से हलफनामा बनवाकर भी देना होगा।
  • फार्म 26 को डाउनलोड करने के लिए यहां पर क्लिक करें। फार्म पीडीएफ फार्मेट में उपलब्ध है। डाउनलोड कर इसका प्रिंट निकाल लें।

About Ashutosh Srivastava

हिंदी पत्रकारिता में 21 वर्ष का अनुभव। दैनिक जागरण और अमर उजाला में लंबा समय दिया।