Home / pan card / पैन कार्ड : कैसे करें ऑनलाइन वैरिफकेशन | pan card : how to do online verification in hindi

पैन कार्ड : कैसे करें ऑनलाइन वैरिफकेशन | pan card : how to do online verification in hindi

pan card

यह पूरी तरह से इलेक्ट्रानिक दौर है। हर जेब में मोबाइल है और हर घर में कंप्यूटर या फिर लैपटॉपप है। इंटरनेट के इस युग में अगर आप पिछड़ गए तो काफी पीछे चले जाएंगे। यही वजह है कि हर चीज डिजिटल हो रही है। केंद्र हो या फिर प्रदेश दोनों सरकारों की ज्यादातर स्कीम ऑनलाइन होती जा रही है। जो फिलहाल ऑफलाइन हैं, वे जल्द ही आनलाइन हो जाएंगी। सरकारें इस बात पर जोर दे रही हैं कि लोग पूरी तरह से डिजिटल हो जाएं, ताकि उन्हें अपने किसी भी काम के लिए दफ्तरों के चक्कर न काटने पड़े। ऐसे में जरूरी है कि आप अगर पैन कार्ड बनवाने जा रहे हैं तो आपको पता चाहिए कि यह घर बैठे ही बन जाएगा। बस आपको थोड़ा नेट फ्रेंडली होना पड़ेगा। दूसरी तमाम चीजों की तरह से पैन कार्ड भी ऑनलाइन बनवा सकते हैं। सरकार ने इसके लिए दो बड़ी वेबसाइट लांच की है, जो लोगों का पैन कार्ड बनाने का काम कर रही हैं। एक वेबसाइट का नाम है एनएसडीएल और दूसरी वेबसाइट का नाम है यूटीआईआईटीएसएल। दोनों वेबसाइट पर विजिट कर आप पैन कार्ड के लिए अप्लाई कर सकते हैं। दोनों वेबसाइट पर आपको पैन कार्ड से जुड़ी तमाम जानकारियां भी मिल जाएंगी। नया पैन कार्ड बनवाना हो या पैन कार्ड खोने पर डुप्लीकेट पैन कार्ड के लिए फिर से अप्लाई करना हो। पुराने पैन नंबर के लिए भी आप इन दोनों वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं। हम आपको बता रहे हैं कि दोनों वेबसाइट के साथ टिन सिस्टम किस तरह काम करता है। इसके अलावा हम आपको बता रहे हैं कि आप किस तरह पैन कार्ड का ऑनलाइन वैरिफिकेशन कर सकते हैं।

ऑनलाइन पैन वैरिफिकेशन | online verification

पैन नंबर को कई जगहों पर दिया जाता है। जैसे आयकर विभाग, बीमा, बैंक, एनबीएफसी आदि जगहों पर पैन नंबर मांगे जाते हैं। इस पोर्टल के जरिए डिपार्टमेंट किसी का भी ऑनलाइन पैन वैरिफिकेशन कर सकते हैं। कंप्यूटर पर आदमी का नाम या उसका पैन नंबर डालते ही उसकी पूरी हिस्ट्री सामने आ जाएगी। यह पता चल जाएगा कि उसका पैन कार्ड सही है या नहीं। अगर सही नहीं है और उसके फर्जी होने का अंदेशा है तो उसके खिलाफ कार्रवाई भी की जा सकती है। नाम से भी पैर नंबर सर्च किया जा सकता है।

इस पर दें ध्यान | bear in mind

  • सबसे पहले आयकर विभाग की ई-फाइलिंग वेबसाइट पर विजिट करें
  • इसके बाद नो योर पैन आप्शन पर क्लिक करें
  • यहां जो भी जानकारी मांगी जा रही है, उसे उपलब्ध कराएं
  • अपनी जन्मतिथि भी जरूर बताएं
  • पहले सरनेम, फिर मिडिल नेम और बाद में फस्र्ट नेम डालें
  • इसके बाद कैपचा कोड डिस्प्ले बोर्ड पर आ जाएगा
  • सब्मिट के लिए इसपर क्लिक करें

पैन कार्ड के लिए पात्रता | eligibility for pan card

पैन कार्ड उन लोगों के लिए जरूरी है, जो भारत में रहकर टैक्स जमा कर रहे हैं। रिटर्न फाइल, टीडीएस और रिफंड हासिल करने के लिए भी पैन कार्ड जरूरी है। इसके अलावा उन लोगों के लिए भी पैन कार्ड जरूरी हैं, जो ट्रस्ट, एसोसिएशन, फर्म और कंपनी चला रहे हों। साथ ही वे किसी भी तरह का व्यापार कर रहे हों तो उन्हें पैन कार्ड रखना पड़ेगा। बिना पैन कार्ड वे न तो टैक्स जमा कर सकते हैं और न ही रिटर्न फाइल करने के लिए योग्यता रखते हैं। जब से जीएसटी लागू हुआ है छोटे-बड़े सभी तरह के कारोबारियों के लिए भी पैन कार्ड अनिवार्य हो गया है। इस कड़ी में हम आपको बता रहे हैं कि किस-किस कैटगिरी में पैन कार्ड की अनिवार्यता है।

  • करदाता– ऐसे लोग जो भारतीय हैं। उन्हें पैन कार्ड के लिए वैलिड एडरेस कार्ड, डेट ऑफ बर्थ सर्टिफिकेट, आईडी पू्रफ लगाना होगा। वे चाहें तो पासपोर्ट की कॉपी, ड्राइविंग लाइसेंस की कॉपी भी लगा सकते हैं
  • हिंदू परिवार–  उन हिंदू परिवार के लिए अलग नियम बनाए हैं, जो एक ही परिवार का हिस्सा हैं। यानी एक ही परिवार का होने के साथ ही अलग-अलग न रह रहे हों। हम आपको बता रहे हैं कि ऐसे परिवार के लिए किस तरह के दस्तावेज जरूरी हैं। कर्ता की हस्ताक्षर वाला एक पत्र, पिता का नाम और हफ सदस्यों के नाम। इनमें से किसी एक ऐसे दस्तावेज की जरूरत हैं, कर्ता के लिए बनाए गए नियम को फॉलो करते होंमाइनर्स– नाबालिग का भी पैन कार्ड बन सकता है, लेकिन इसके लिए उनके अभिभावकों को आवेदन करना पड़ेगा। आईडी और एडरेस पू्रफ देने के बाद उनका पैन कार्ड भी बन जाएगा
  • भारतीय नागरिक– भारतीय नागरिक फार्म 49-ए भरकर आवेदन कर सकते हैं। इसी तरह वह अगर दूसरे देशों में रह रहे हैं, वे भी इसी फार्म को भरकर आवेदन कर सकते हैं
  • कंपनीज– भारत में जो कंपनी काम कर रही है, उन्हें भी पैन कार्ड बनवाना पड़ेगा। पैन कार्ड के लिए बगैर वह कंपनी नहीं चला सकते हैं
  • पाटर्नशिप– अगर पार्टनरशिप में फर्म चल रहे हैं तो आपके लिए भी जरूरी है कि पहले आप अपना पैन कार्ड बनवाएं। बिना पैन कार्ड के लिए इस काम को अंजाम देने के बारे में मत सोचिएगा
  • ट्रस्ट– अगर आप ट्रस्ट चल रहे हैं तो आपके लिए भी पैन कार्ड जरूरी है। बिना पैन कार्ड के लिए आप ट्रस्ट का रजिस्ट्रेशन नहीं करा सकते हैं
  • एसोसिएशन– अगर आप किसी एसोसिएशन से जुड़े हैं या फिर एसोसिएशन बना रहे हैं तो आपके लिए भी पैन कार्ड
    जरूरी है

कैसे लिखें | how to write

  1. जिस ब्लॉक लेटर का इस्तेमाल करना हो, उसे तय कर लें, अलग-अलग ब्लॉक लेटर का इस्तेमाल करने पर आपको दिक्कत हो सकती है। मुमकिन है कि आपका फार्म रद्द भी हो जाए
  2. अगर आप फार्म भरने जा रहे हैं तो हमेशा ब्लैक सियाही का इस्तेमाल करें। नीले पेन का इस्तेामल करने से परहेज करें और लाल सियाही का इस्तेमाल तो भूलकर भी न करें
  3. फार्म पूरी तरह साफ-साफ भरें। यानी फार्म पर किसी तरह की ओवर राइटिंग नहीं होना चाहिए। अगर आवेर राइटिंग होने का खतरा है तो दो फार्म डाउनलोड कर लें। ताकि फार्म गलत होने पर दूसरे फार्म का इस्तेामल किया जा सके
  4. फार्म पर पूरा नाम लिखें। यानी जो नाम आपकी हाईस्कूल और इंटरमीडियट की मार्कशीट पर लिखा हो, उसी नाम का इसतेमाल करें।
  5. फार्म पर दो पासपोर्ट साइज की फोटो जरूर लगाएं
  6. आप जो आईडी पू्रफ और एडरेस पू्रफ लगा रहे हैं, उसमें आपका नाम मैच करना चाहिए। अगर उसमें अलग-अलग है तो बाद में दिक्कत हो सकती है
  7. अगर थंब लगा रहे हैं तो जहां पर साइन है, उसकी दूसरी तरफ इसका इस्तेमाल करें

डुप्लीकेट पैन कार्ड भी बनवा सकते हैं | you can apply for duplicate pan

अगर आपको फार्म 61 भरना है तो आप इसे एनएसडीएल की वेबसाइट से डाउनलोड कर सकते हैं। अगर आप नेट फ्रेंडली नहीं है तो यूटीआईआईटीएसएल की शाखाओं में भी यह फार्म मिल जाएगा। इसी तरह पैन कार्ड बनवाना भी आसान हो गया है। आप कार्ड के लिए एनएसडीएल की वेबसाइट पर अप्लाई कर सकते हैं। इसके अलावा जिला स्तर पर कई एजेंसियों को यह काम सौंपा गया है, जो लोगों के लिए पैन कार्ड बनाने का काम कर रही हैं। करेक्शन के लिए भी इसी प्रक्रिया से गुजरना होगा। आप डुप्लीकेट पैन कार्ड भी हासिल कर सकते हैं। अगर कार्ड खो गया है या फिर चारी हो गया तो स्थानीय एजेंसियों से संपर्क

सर्च करने के लिए ये करें l what to do for searching

आप पैन कार्ड के आधार पर बहुत सारी जानकारियां हासिल कर सकते हैं। इससे आपको यह भी पता चल जाएगा कि आपके और दूसरे तमाम लोगों के घरों के पता भी चल जाएगा। अगर आपको पैन नंबर के बारे में जानकारी है। हम आपको बता रहे हैं कि इसके लिए आपको क्या करना है।

  • सबसे पहले आयकर विभाग की ई-फाइलिंग वेबसाइट पर विजिट कीजिए।
  • यहां रजिस्टर योरसेल्फ पर क्लिक कीजिए
  • यूजर टाइप पर क्लिक कीजिए और फिर कंटीन्यू कर दीजिए
  • इसके बाद कुछ जरूरी बुनियादी जानकारियां डालनी पड़ेंगी
  • रस्ट्रिेशन को फिलअप कीजिए और बाद में फार्म को सब्मिट कर दीजिए
  • आपके ईमेल पते पर एक लिंग भेजा जाएगा, इस लिंक पर क्लिक करते ही आपको अकाउंट एक्टिव हो जाएगा
  • इसके बाद प्रोफाइल सेटिंग में जाकर पैन डिटेल्स पर क्लिक कर दीजिए
  • आपका पता और दूसरी तमाम तरह की जानकारियां आपकाो स्क्रीन पर ही दिखने लगेंगी

About Mohd. razi

हिंदी पत्रकारिता में 14 वर्ष का अनुभव। दैनिक जागरण और अमर उजाला में काफी वक्त दिया।

Check Also

पैन कार्ड : विदेशी नागरिकों के लिए जरूरी दस्तावेज | pan card : required documents for foreigners in hindi

पैन कार्ड बनवाना बिल्कुल आसान है। इसके लिए कुछ नियम बनाए गए हैं, जिनपर अमल …