Home / pradhanmantri yojana / sarkari yojana / Himachal pradesh / हिमाचल प्रदेश बेरोजगारी भत्ता । Himachal pradesh berojgari bhatta in hindi

हिमाचल प्रदेश बेरोजगारी भत्ता । Himachal pradesh berojgari bhatta in hindi

हिमाचल प्रदेश सरकार ने शिक्षित बेरोजगारों के लिए हिमाचल प्रदेश बेरोजगारी भत्ता योजना की शुरुआत कर दी है। इस योजना के तहत हिमाचल प्रदेश के युवाओं को 1000 रुपये प्रतिमाह बेरोजगारी भत्ता प्रदान किया जाएगा। जो शिक्षित युवा दिव्यांग हैं, उनको प्रतिमाह 1500 रुपये का बेरोजगारी भत्ता दिया जाएगा। सरकार का मानना है भत्ते से युवाओं को कुछ राहत मिलेगी और इससे वे प्रतियोगी परीक्षाओं के फार्म व पुस्तकों को खरीद सकेंगे।

hp

भत्ता उन्हीं युवाओं को मिलेगा जिन्होंने श्रम एवं रोजगार विभाग में अपना पंजीकरण करवा रखा होगा। पंजीकरण कराने वाले युवाओं को भत्ता तो प्रदान किया ही जाएगा, उनको योग्यता के अनुसार नौकरी के अवसर उत्पन्न होने पर ऑनलाइन सूचना भी दी जाएगी। श्रम विभाग में पंजीकरण ऑनलाइन व ऑफलाइन करवाया जा सकता है। ऑफलाइन पंजीकरण अपने जिले के रोजगार विभाग के दफ्तर में जाकर करवाया जा सकता है और ऑनलाइन आवेदन के लिए रोजगार विभाग की वेबसाइट पर जाना होगा।

अब आपको विस्तार से पंजीकरण के बारे में बता देते हैं। आप पंजीकरण अपने लैपटॉप या कंप्यूटर से करवा सकते हैं। अगर आपके पास यह सुविधा नहीं है तो साइबर कैफे या कॉमन सर्विस सेंटर की मदद लें। यह योजना उन युवा बेरोजगारों के लिए है जिनकी आयु 20 से 35 वर्ष के बीच है। 20 साल से कम या 35 साल से अधिक के बेरोजगारों को भत्ते का लाभ नहीं मिलेगा।

हिमाचल प्रदेश बेरोजगारी भत्ता के लिए ऐसे करवाएं पंजीकरण

  • सबसे पहले आप दिए गए लिंक https://eemis.hp.nic.in/home.aspx पर क्लिक करें। इस पर क्लिक करते ही आप श्रम विभाग की ऑफिशियल वेबसाइट पर पहुंच जाएंगे।
  • मेन पेज पर ही आपको लॉग इन का विकल्प नजर आएगा। इसको क्लिक करें। क्लिक करते ही कुछ जरूरी डिटेल्स को भरने के बाद रजिस्ट्रेशन फार्म ओपन हो जाएगा।
  • सबसे पहले आप अपने जिले और रोजगार एक्सचेंज का चयन करें। यानि जिस जिले में रहते हैं, उसका नाम भरें।
  • इसके बाद आपको पंजीकरण की तारीख भरनी होगी। पंजीकरण की तारीख से मतलब है कि जिस दिन आप रजिस्ट्रेशन करवा रहे हैं। तारीख को आगे, पीछे न करें वरना रजिस्ट्रेशन निरस्त हो जाएगा।
  • तीसरे नंबर पर आप अपना नाम भरें। नाम के बाद जन्म तिथि वाले कॉलम पर पहुंचें। जन्म तिथि को भरें।
  • अगले कॉलम में आपको माता व पिता का नाम भरना होगा। माता व पिता का नाम उसी रूप में भरें जैसा आपके सर्टिफिकेट या आधार कार्ड पर अंकित है। शार्ट में नाम सर्टिफिकेट पर दर्ज है तो वैसा ही लिखें। नाम में अंतर आने पर आपका फार्म रिजेक्ट हो जाएगा।
  • इसके बाद आपको शैक्षणिक योग्यता, पता, विवरण व कार्य अनुभव की जानकारी दर्ज करनी होगी। अगर आपने पहले कहीं काम किया है तो इसका उल्लेख अवश्य करें। रोजगार कार्यालय की तरफ से नौकरियों की सूचना मिलना मिलने पर आपको प्राथमिकता मिलेगी।
  • फार्म को एक बार फिर से पढ़ लें। अच्छी तरह से जांच लें कि आपके द्वारा भरी गई जानकारियां सही हैं कि नहीं। इसमें गलती होने पर फार्म रिजेक्ट हो सकता।
  • फार्म को चेक करने के बाद सबमिट का बटन दबा दें। सभी कॉलम भरे होंगे  तो आपका फार्म एक्सेप्ट कर लिया जाएगा।
  • पंजीकरण के बाद आपको रिफ्रेंस नंबर मिलेगा। इसको कहीं पर नोट कर लें।
  • ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के 30 दिन के भीतर आपको अपने जिले के रोजगार दफ्तर में जाकर सभी मूल दस्तावेंजों की फोटो कॉपी को जमा करना होगा। आपको वहां पर रिफ्रेंस नंबर दिखाना होगा।
  • फोटो कॉपी के साथ मूल दस्तावेजों को भी साथ लेकर जाएं। वहां पर इसका मिलान मूल दस्तावेजों से किया जाएगा। आप जो दस्तावेज जमा करेंगे, इनका अलग से सत्यापन भी कराया जाएगा।
  • सभी दस्तावेंजों का सत्यापन होने के बाद पंजीकरण प्रमाण पत्र आपके पते पर रजिस्टर्ड डाक के माध्यम से भेज दिया जाएगा।
  • कार्ड को सुरक्षित रखें। इसी के आधार पर आपको बेरोजगारी भत्ता मिलेगा। इतना ही नहीं, इसी आधार पर आपको नौकरी के लिए ऑफर भी भेजा जाएगा।
  • इस कार्ड का आपको समय-समय पर नवीनीकरण भी करवाना होगा। इससे रोजगार विभाग को यह पता चलता रहेगा कि आप नौकरी में हैं या अब भी बेरोजगार हैं।

ऑफलाइन प्रकिया

  • सबसे पहले अपने जिले के रोजगार विभाग के कार्यालय में पहुंचें और पंजीकरण फार्म को प्राप्त करें।
  • आप श्रम विभाग की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर भी रजिस्ट्रेशन फार्म की पीडीएफ फाइल को डाउनलोड कर सकते हैं।
  • फार्म में नाम, पिता व माता का नाम, जन्म तिथि, पता, शैक्षणिक योग्यता, कार्य विवरण, अनुभव आदि का उल्लेख करें।
  • फार्म के साथ अपनी फोटो व सभी प्रमाण पत्रों की फोटो कॉपी संलग्न करें और काउंटर पर जमा कर दें।
  • काउंटर पर आपको प्रमाण पत्रों की ओरिजनल कॉपी भी प्रस्तुत करनी होगी।
  • फार्म जमा करने के बाद आपको रिसीविंग स्लिप प्रदान की जाएगी।
  • फार्म जमा करने के 30 दिन के भीतर प्रमाण पत्रों की जांच होगी और पंजीकरण कार्ड आपके घर के पते  पर रजिस्टर्ड डाक के माध्यम से भेज दिया जाएगा।

नियम व शर्तें

  • यह योजना हिमाचल प्रदेश के मूल निवासियों के लिए है। दूसरे राज्यों से आकर बसे युवाओं को इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा।
  • भत्ता उन्हीं परिवारों के युवाओं को मिलेगा जिनकी वार्षिक आय दो लाख रुपये या इससे कम होगी।
  • युवाओं का शिक्षित होना जरूरी है। अशिक्षित युवा बेरोजगारी भत्ता प्राप्त नहीं कर सकेंगे।
  • युवाओं को दो वर्ष तक 1000 रुपये मासिक भत्ता मिलेगा। दिव्यांग शिक्षित युवाओं को 1500 रुपये प्रति माह प्रदान किए जाएंगे।
  • दो वर्ष बाद सरकार भत्ते पर फिर से विचार करेगी।
  • आपको फार्म अकाउंट की भी जानकारी देनी होगी। अगर अब तक बैंक अकाउंट नहीं खुलवाया है तो अपने घर के निकट के राष्ट्रीयकृत बैंक की शाखा में जाकर तुरंत बैंक अकाउंट खुलवा लें। बैंक अकाउंट को आधार से लिंक करवाना भी जरूरी है।
  • आवेदक की आयु 20 से 35 वर्ष के बीच होनी चाहिए। 20 वर्ष से कम या 35 वर्ष से अधिक के बेरोजगारों को भत्ता प्रदान नहीं  किया जाएगा।

आवश्यक दस्तावेज

  1. आधार कार्ड
  2. आयु प्रमाण पत्र
  3. आवास प्रमाण पत्र
  4. शैक्षणिक प्रमाण पत्र
  5. आय प्रमाण पत्र
  6. फोटो
  7. बैंक अकाउंट की पास बुक

About Ashutosh Srivastava

हिंदी पत्रकारिता में 21 वर्ष का अनुभव। दैनिक जागरण और अमर उजाला में लंबा समय दिया।

Check Also

annapoorna yojana

राजस्थान अन्नपूर्णा रसोई योजना । rajasthan annapoorna rasoi yojana in Hindi

राजस्थान सरकार गरीबों के लिए गंभीर है। किसानों से लेकर मजदूरों तक के लिए ढेर …