Home / pradhanmantri yojana / sarkari yojana / chattisgarh / छत्तीसगढ़ साइकिल साझाकरण योजना । chattisgarh bicycle saghakaran yojana in Hindi

छत्तीसगढ़ साइकिल साझाकरण योजना । chattisgarh bicycle saghakaran yojana in Hindi

छत्तीसगढ़ सरकार हर क्षेत्र में बेहतर कार्य करने का प्रयास कर रही है। सरकार बड़े बुजुर्गों के साथ ही महिलाओं का ख्याल तो रख ही रही है, बच्चों की बेहतरी के लिए भी कई योजनाएं शुरू की गई हैं। छात्र और छात्राओं को शिक्षा के क्षेत्र में आगे बढ़ाने के लिए वजीफा योजना शुरू करने के बाद अब साइकिल साझाकरण योजना शुरू की गई है।

स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए इस योजना की शुरुआत की गई है। इस योजना के तहत लोग जहां साइकिल किराए पर ले सकेंगे, वहीं उन्हें हेल्थ के प्रति जागरूक भी किया जाएगा। तो चलिए हम आपको बताते हैं कि साइकिल साझाकरण योजना क्या है और आप इस योजना से किस तरह फायदा हासिल कर सकते हैं।

योजना के फायदे

साइकिल साझाकरण योजना का मकसद मुसाफिरों को राहत प्रदान करना तो है ही, उन्हें स्वस्थ रखना भी है। इस योजना के तहत छात्रों के साथ ही आम लोगों को भी साइकिल किराए पर दी जाएंगी। लोग बेहद कम पैसे देकर साइकिल ले सकते हैं। काम पूरा करने के बाद वे फिर से साइकिल को स्टेशन पर जमा कर सकते हैं। सरकार की ओर से इसके लिए दस साइकिल स्टेशन बनाए गए हैं। यहां से साइकिल को किराए पर लिया जा सकता है। काम पूरा होने के बाद साइकिल को स्टेशन पर ही जमा भी किया जाएगा।

दस स्टेशनों का निर्माण पूरा

छत्तीसगढ़ सरकार की ओर से शुरू की गई साइिकल साझाकरण योजना के तहत प्रदेश में दस स्टेशन बनाए गए हैं। यहां जो साइकिल रखी गई हैं, वे हाईटेक हैं। साइकिलें पूरी तरह जीपीएस सिस्टम से लैस होंगी। यानी जो भी लोग साइकिल ले जा रहे हैं, उनकी निगरानी होती रहेगी। साइकिल हल्की होगी।

इसे चलाने में हल्कापन महसूस होगा। इस तरह की साइकिल के लिए खास तरह की डिजाइन तैयार किया गया था। खास बात यह है कि स्टेशन पर ही बोर्ड लगे होंगे, जिनपर साइकिल चलाएं और फिट रहे, जैसे स्लोगन लिखे होंगे। लोगों को साइकिल चलाने के फायदे भी बताए जाएंगे।

योजना के लिए पात्रता

  • साइकिल साझाकरण योजना को किसी तरह के बंधन में बांधा नहीं गया है। कोई भी इस योजना के तहत साइकिल किराए पर ले सकता है।
  • सरकार की ओर से फिक्स कराया देना होगा। साइकिल के लिए लोगों को आईडी भी दिखाना होगा।
  • छात्रों और छात्राओं को साइकिल किराए पर लेने में छूट मिलेगी। सरकार ने इसके लिए संबंधित विभागों को सर्कुलर जारी कर दिया है।
  • साइकिल साझाकरण योजना का लाभ लेने के लिए छत्तीसगढ़ का निवासी होना जरूरी है।

स्वास्थ्य के लिए जरूरी

सरकार की ओर से जारी गाइडलाइन में साइकिल पर खास फोकस किया गया है। सरकारी नुमाइंदों के मुताबिक साइकिल चलाने के कई फायदे हैं। पहली चीज तो यह साइकिल चलाने की वजह से पेट्रोल की बचत होगी। लोगों के पैसे बचेंगे। दूसरी चीज की शहर में प्रदूशित वातावरण में कमी अएगी।

सबसे ज्यादा खास बात यह है कि साइकिल चलाने की वजह से लोग फिट रहेंगे। जानकारों के मुताबिक अब तो डाक्टर लोगों को साइकिल चलाने की नसीहत दे रहे हैं। लोगों के अंदर जागरूकता भी आ रही है। उन्हें लग रहा है कि साइकिल चलाने की वजह से वे फिट तो रहते ही हैं, हर रोज एक्सरसाइज भी हो जाती है।

वेबसाइट पर कर सकते हैं विजिट

  1. सरकार द्वारा शुरू की गई इस योजना के बारे में और ज्यादा जानने के लिए लोग सरकार की  वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।
  2. अगर आप इस योजना के बारे में कुछ भी जानना चाहते हैं तो आपको सरकार की अफीशियल वेबसाइट पर क्लिक करना होगा।
  3. बिहार सरकार की अफीशियल वेबसाइट पर क्लिक करने के बाद आपको इस योजना का ऑप्शन दिख जाएगा।
  4. ऑप्शन पर जाने के बाद आपको इस योजना से जुड़ी तमाम जानकारी मिल सकेगी।

साइकिल ट्रैक बनाया गया

छत्तीसगढ़ सरकार की ओर से शुरू की गई साइकिल साझाकरण योजना को ध्यान में रखते हुए प्रदेश में साइकिल ट्रैक का निर्माण भी कराया गया है। सरकारी नुमाइंदों के मुताबिक इस योजना के तहत करीब 55 किलोमीटर साइकिल ट्रैक का निर्माण पूरा कराया जा चुका है। दूसरे फेज में भी जल्द ही निर्माण शुरू किया जा सकेगा। जानकारों के मुताबिक शहरों में भीड़ ज्यादा रहती है। बड़े वाहनों की वजह से सड़क हादसे के खतरे बने रहते हैं। इसी को ध्यान में रखकर साइकिल ट्रैक का निर्माण कराया गया है। लोग मुख्य सड़कों से हटकर ट्रैक पर साइकिल चला सकेंगे। इसकी वजह से वे सुरक्षित भी महसूस कर सकेंगे।

About Mohd. razi

हिंदी पत्रकारिता में 14 वर्ष का अनुभव। दैनिक जागरण और अमर उजाला में काफी वक्त दिया।

Check Also

idbi

आईडीबीआई भर्ती 2019 । IDBI Recruitment 2019

बैंकों में नौकरी की तलाश कर रहे युवाओं के लिए अच्छी खबर है। इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट …