Home / pradhanmantri yojana / sarkari yojana / Jharkhand / झारखंड ई कल्याण छात्रवृत्ति योजना । Jharkhand e kalyan scholarship yojana in hindi

झारखंड ई कल्याण छात्रवृत्ति योजना । Jharkhand e kalyan scholarship yojana in hindi

झारखंड ई कल्याण छात्रवृत्ति योजना – झारखंड के गरीब घरों के छात्रों को पढ़ाई में अब आगे दिक्कत नहीं आएगी। सरकार ने ओबीसी, एससी-एसटी छात्रों की सुविधा के लिए ई कल्याण छात्रवृत्ति योजना की शुरुआत कर दी है। इस योजना के तहत 10वीं की परीक्षा उत्तीर्ण  करने वाले छात्र आवेदन कर सकते हैं। हर महीने सरकार की ओर से निश्चित राशि लाभार्थी के बैंक अकाउंट में भेज दी जाएगी।

झारखंड मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना

झारखंड विषमताओं से भरा राज्य है। खनिज संपदा के मामले में तो यह राज्य पहले नंबर पर आता है लेकिन यहां गरीबी भी बहुत है। यहां से निकलने वाले कोयले व अन्य खनिज पदार्थों से उद्योगपति और सरकारें तो मालामाल हो रही हैं लेकिन इसका लाभ स्थानीय लोगों को नहीं मिल पा रहा। इसी का नतीजा है कि बच्चे पढ़ाई भी पूरी नहीं कर पाते हैं और दूसरे कामों में लग जाते हैं। अधिकांश युवा या तो खदानों में मजदूरी करते हैं या रोजी की तलाश में दूसरे राज्य में चले जाते हैं।

पलायन की वजह से यहां के शिक्षा के स्तर में लगातार गिरवाट देखी जा रही है। 10वीं के बाद आधे से ज्यादा छात्र स्कूल छोड़ जाते हैं। बच्चे कमाई के चक्कर में पढ़ाई न छोड़ें, इसलिए राज्य सरकार ने ई कल्याण छात्रवृत्ति योजना लागू की है जो 10वीं की पढ़ाई पूरी करने के बाद शुरू होती है। जब तक छात्र पढ़ेगा, तब तक उसको छात्रवृत्ति दी जाएगी। यह योजना ओबीसी व एससी-एसटी विद्यार्थियों के ही लिए है। फिलहाल इसी वर्ग में शिक्षा का स्तर काफी कम है।

इस योजना के लिए सरकार ने नियम बना दिए हैं जिसकी जानकारी आपको आर्टिकल में आगे मिलेगी। छात्रवृत्ति योजना के तहत सरकार रुपये सीधे छात्रों के बैंक अकाउंट में भेजती है। बीच में छात्रवृत्ति को गोल करने का कोई रास्ता नहीं छोड़ा गया है। योजना के लिए सरकार ने नियमों को भी बना दिया गया है जिसमें आय की सीमा निर्धारित कर दी गई है।

झारखंड ई कल्याण छात्रवृत्ति योजना – नियम व शर्तें

  • ई कल्याण छात्रवृत्ति योजना सिर्फ ओबीसी, एससी व एसटी विद्यार्थियों के लिए है। सामान्य वर्ग के विद्यार्थियों को इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा। सामान्य छात्रों के लिए छात्रवृत्ति की दूसरी योजनाओं को झारखंड सरकार द्वारा चलाया जा रहा है।
  • इस योजना का लाभ झारखंड के मूल निवासी ओबीसी, एससी व एसटी विद्यार्थियों को मिलेगा। दूसरे राज्यों के मूल निवासी छात्र जो झारखंड में निवास कर रहे हैं, वे इस योजना का लाभ नहीं उठा सकेंगे।
  • छात्रवृत्ति के लिए वही एससी व एसटी छात्र आवेदन कर सकेंगे जिनके परिवार की वार्षिक आय ढाई लाख रुपये या इससे कम है। छात्रों को इसके लिए आय प्रमाण पत्र को भी जमा करना होगा। एससी व एसटी छात्र जिनके परिवार की आय ढाई लाख रुपये सालाना से अधिक है, वे इस योजना के लिए आवेदन नहीं कर सकते।
  • ओबीसी वर्ग के छात्रों के लिए एक लाख रुपये सालाना की आय निर्धारित की गई है। इस योजना के तहत वही ओबीसी छात्र आवेदन कर सकते हैं जिनके परिवार की सालाना आमदनी एक लाख रुपये या इससे कम है। छात्रों को आय प्रमाण पत्र भी आवेदन पत्र के साथ सलंग्न करना होगा।
  • यह योजना पोस्ट मैट्रिक छात्रों के लिए है। इसका मतलब है कि वही छात्र छात्रवृत्ति के लिए आवेदन कर सकेंगे जिन्होंने हाईस्कूल या समक्षक परीक्षा उत्तीर्ण कर ली है। उनको आवेदन पत्र के साथ शैक्षणिक प्रमाण पत्र की  फोटो कॉपी भी लगानी होगी।
  • छात्रों को किसी और छात्रवृत्ति योजना से लाभान्वित नहीं होना चाहिए। उनको शपथ पत्र देना होगा कि वे इसके अतिरिक्त किसी दूसरी छात्रवृत्ति योजना का लाभ नहीं उठा रहे हैं।
  • इस योजना के तहत प्रदेश के बाहर के विश्वविद्यालय या कॉलेज से बीए, बीएससी, बीकॉम या अन्य डिप्लोमा कोर्स करने वाले छात्रों को छात्रवृत्ति नहीं प्रदान की जाती। छात्रों को शिक्षा झारखंड के ही संस्थानों से ग्रहण करनी होगी।
  • इस योजना के तहत अलग-अलग कक्षाओं के लिए अलग-अलग दर से छात्रवृत्ति मिलती है। छात्रों को सालाना 19500 से लेकर 90 हजार रुपये तक छात्रवृत्ति के रूप में प्रदान किए जाते हैं।  इसमें हॉस्टल की फीस समेत अन्य खर्चे शामिल होते हैं।

ऑनलाइन आवेदन

  1. इस योजना के  तहत आवेदन करने के लिए ऑनलाइन सुविधा भी शुरू की गई है। आवेदन के लिए छात्र दिए गए लिंक https://ekalyan.cgg.gov.in/ को क्लिक करें।
  2. लिंक को क्लिक करते ही आप ई कल्याण छात्रवृत्ति की ऑफिशियल वेबसाइट पर पहुंच जाएंगे। इसमें अन्य योजनाओं की भी जानकारी दी गई है।
  3. आपको ऊपर की तरफ ही स्कॉलरशिप रजिस्ट्रेशन का ऑप्शन नजर आएगा। इसको क्लिक करते ही नया पेज ओपन हो जाएगा।
  4. इसमें जाकर आप यूजर नेम व पासवर्ड को क्रिएट कर लें। इसमें छात्रों को नाम, पिता का नाम, क्लास, पता, मोबाइल नंबर, स्कूल का नाम, परीक्षा उत्तीर्ण करने का वर्ष आदि भरना होगा।
  5. इसके बाद दिए गए छह अंकों के कोड को भरें और लॉग इन कर लें। इसके बाद फार्म को ओपन करें और सावधानी पूर्वक इसको भर दें।
  6. फार्म के साथ ही आपको आधार कार्ड समेत सारे जरूरी दस्तावेंजों को अपलोड करना होगा। इसके बाद फार्म को सबमिट कर दें।
  7. फार्म की जांच के बाद आपका नाम लाभार्थी की सूची में आ जाएगा। फार्म अगस्त से भरे जाते हैं। आखिरी तारीख दिसंबर निर्धारित की जाती है। अगस्त के पहले व दिसंबर के बाद आवेदन पत्र आप नहीं भर सकते हैं। साइट पर फार्म ओपन ही नहीं  होगा।

ऑफलाइन आवेदन

  • ऑफलाइन प्रक्रिया के तहत फार्म स्कूलों में  भरवाए जाते हैं। फार्म मान्यता प्राप्त स्कूलों के छात्र ही भर सकते हैं।
  • फार्म एसटी, एससी, अल्पसंख्यक एवं ओबीसी कल्याण विभाग के दफ्तर से भी प्राप्त किए जा सकते हैं। छात्रों को फार्म के साथ सारे जरूरी दस्तावेजों की फोटो कॉपी अटैच करनी होगी।
  • फार्म जमा करने के बाद इसकी जांच करवाई जाएगी और नाम लाभार्थी की सूची में जोड़ दिया जाएगा। सूची अगस्त के बाद हर महीने अपडेट की जाती है।
  • अगर किसी कारण से फार्म रिजेक्ट हो जाता है तो इसका कारण भी पता चल जाएगा। छात्र निर्धारित अवधि के भीतर दोबारा आवेदन पत्र जमा कर सकते हैं।

इन पेपर्स की पड़ेगी जरूरत

  1. 10वीं की मार्कशीट
  2. जाति प्रमाण पत्र
  3. आय प्रमाण पत्र
  4. निवास प्रमाण पत्र
  5. स्कूल में 11वीं या आगे की कक्षा में प्रवेश के प्रमाण पत्र
  6. आधार कार्ड
  7. बैंक अकाउंट के पास बुक की फोटो कॉपी
  8. पिछले साल की मार्कशीट
  9. रंगीन फोटो

About Ashutosh Srivastava

हिंदी पत्रकारिता में 21 वर्ष का अनुभव। दैनिक जागरण और अमर उजाला में लंबा समय दिया।

Check Also

annapoorna yojana

राजस्थान अन्नपूर्णा रसोई योजना । rajasthan annapoorna rasoi yojana in Hindi

राजस्थान सरकार गरीबों के लिए गंभीर है। किसानों से लेकर मजदूरों तक के लिए ढेर …