Home / pradhanmantri yojana / sarkari yojana / एसएससी सीएचएसएल भर्ती-2019 । SSC CHSL recruitment-2019

एसएससी सीएचएसएल भर्ती-2019 । SSC CHSL recruitment-2019

एसएससी विभिन्न पदों पर बंपर भर्ती करने जा रहा है। इसमें सीएचएसएल यानी कंबाइंड हायर सेकंडरी लेवल कैटिगिरी के करीब पांच हजार से ज्यादा पद शामिल हैं। एसएससी ने इसको लेकर नोटिफिकेशन जारी कर दिया है। तो चलिए हम आपको बताते हैं कि सीएचएसएल के किन पदों पर कितनी भर्ती होगी।

ssc chsl recruitment

एसएससी सीएचएसएल भर्ती-2019 / SSC CHSL recruitment-2019

कर्मचारी चयन आयोग ने अपनी अफीशियल वेबसाइट पर नोटिफिकेशन जारी किया है। आयोग की ओर से जारी नोटिफिकेशन के तहत एलडीसी-जेएसए के 1855 पद और पीए-एसए के 3880 पदों पर शीघ्र ही भर्ती की जाएगी। इसी तरह डीईओ के 54 पदों पर भी भर्ती की जाएगी। ऐसे में एसएससी इस साल अलग-अलग श्रेणी में करीब 5789 पदों पर भर्ती करेगा। इच्छुक अभ्यर्थी कर्मचारी चयन आयोग की अफीशियल वेबसाइट पर विजिट कर नोटिफिकेशन को देख सकते हैं।

परीक्षा की तिथि घोषित नहीं

कर्मचारी चयन आयोग ने सीएचएसएल के विभिन्न पदों पर भर्ती करने का एलान तो कर दिया है, लेकिन परीक्षा की तिथि की घोषणा नहीं की है। माना जा रहा है कि आयोग की ओर से इसको लेकर जून में एक नोटिफिकेशन जारी किया जाएगा, जिसमें परीक्षा की तिथि का एलान किया जा सकता है। परीक्षा की तिथि के एलान के साथ आवेदन की प्रक्रिया भी शुरू की जा सकती है। अभ्यर्थी एसएससी की अफीशियल वेबसाइट पर विजिट कर अलग-अलग पदों के लिए होने वाली भर्ती को लेकर आवेदन कर सकते हैं।

सीएचएसएल का फुल फार्म

सीएचएसएल का फुलफार्म कंबाइंड हायर सेकेंडरी लेवल है। कर्मचारी चयन आयोग इस परीक्षा को कंडक्ट कराता है। परीक्षा तीन चरणों में पूरी होती है, जिन्हें टियर वन, टियर टू और टियर थ्री कहा जाता है।। सीएचएसएल के अलग-अलग श्रेणी के लिए होने वाली परीक्षाओं में वही अभ्यर्थी हिस्सा ले सकते हैं, जो बारहवीं की परीक्षा पास कर चुके हैं।

टियर-1

सीएचएसएल टियर वन टाइप परीक्षा में आब्जेक्टिव सवाल पूछे जाते हैं। इसमें आपको एक घंटे का समय मिलेगा। सभी प्रश्न दो-दो अंकों के साथ कुल 100 के प्रश्न होंगे। इसमें निगेटिव मार्किंग भी होती है। यानी अगर जवाब गलत होंगे तो आपके नंबर काट लिए जाएंगे। इसके अलावा यह परीक्षा कंप्यूटर आधारित होती है।

टियर-2

सीएचएसएल टियर टू टाइप परीक्षा में अभ्यर्थियों को लिखित परीक्षा देनी होती है। परीक्षा 100 अंकों की होती है। आमतौर पर इसमें 200 शब्दों के एक निबंध और 150 शब्दों में एक पत्र लिखने को कहा जाता है। परीक्षार्थियों के लिए जरूरी है कि वे इसमें वर्तनीय गलती न करें। सीधे और आसान शब्दों में लिखें।

टियर-3

सीएचएसएल टियर-3 चरण की परीक्षा में टाइपिंग टेस्ट लिया जाता है। इसके साथ ही कंप्यूटर की जानकारी से जुड़े सवाल भी पूछे जाते हैं। इसलिए जरूरी है कि अगर आप एसएससी सीएचएसएल की तैयारी कर रहे हैं तो आपको कंप्यूटर का बेसिक ज्ञान होना चाहिए।

एग्जाम के लिए एज लिमिट

सीएचएसएल की परीक्षाओं में वही अभ्यर्थी बैठ सकते हैं, जिनकी उम्र 18 से 27 साल के बीच है। कोई भी छात्र अगर इस नियम के दायरे में आता है तो वह एसएससी की एसएचएसएल लेवल की परीक्षा में आसानी के साथ शामिल हो सकता है। खास बात यह है कि इसमें आरक्षण के दायरे में आने वाले परीक्षार्थियों के लिए सरकारी नियमानुसार छूट का प्रावधान भी है।

परीक्षा के लिए सिलेबस

  • जनरल इंटेलिजेंस
  • अंग्रेजी
  • क्वांटिटेटिव एप्टिट्यूड
  • सामान्य जागरूकता 

सीएचएसएल की तैयारी

सीएचएसएल टियर थ्री लेवल के एग्जाम के लिए टाइपिंग जरूरी है। कंप्यूटर टाइिपंग आने के साथ स्पीड भी अच्छी होनी चाहिए। परीक्षा में अंग्रेजी टाइपिंग के लिए एक मिनट में 35 शब्द लिखना होगा, जबकि हिंदी टाइपिंग में एक मिनट में 30 शब्द लिखने की अनिवार्यता है। इसलिए परीक्षार्थियों के लिए जरूरी है कि अगर वो इस फेज की परीक्षा में भाग लेना चाहते हैं तो अपनी टाइपिंग स्पीड को मेंटेन करें।

एग्जाम का पैटर्न

आपका फाइनल स्कोर टियर वन और टियर टू लेवल की परीक्षा में प्राप्त अंक के आधार पर तय किया जाएगा। डाटा इंट्री स्पीड स्किल टेस्ट क्वालीफाइंग प्रकृति का होगा। अगर इस परीक्षण को करने की अनुमति दी जाती है तो अभ्यर्थियों को कंप्यूटर पर निर्धारित गति से परीक्षण को पास करना होगा। ऐसा इसलिए किया जाता है ताकि केंद्र स्थल पर इस तरह के कौशल परीक्षण का आयोजन किया जा सके।

स्टडी शेड्यूल तय करें

अगर आप एसएससी सीएचएसएल लेवल के एग्जाम की तैयारी कर रहे हैं तो आप अपनी योग्यता के हिसाब से पढ़ाई का समय तय करें। अगर आपको लगता है कि दिन में छह घंटे की पढ़ाई आपके लिए काफी है तो इन छह घंटों को रात और दिन के अलग-अलग पहर में बांट लें। इससे दिमाग में फ्रेशनेस बरकरार रहती है।

करंट अफेयर्स पर फोकस

अगर आप एसएससी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं तो आपके लिए जरूरी है कि कोर्स के अलावा दूसरी चीजों पर भी ध्यान दें। अखबार पढ़ना भी आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। करंट अफेयर्स के लिए अखबार की स्टडी बेहद अहम है। भारत में क्या हो रहा है। विश्व में क्या हो रहा है। प्रदेश और अलग-अलग शहरों से जुड़ी चीजें अखबारों में छपती हैं, जो आपको परीक्षा की तैयारी करने में मदद दे सकती हैं।

ऑनलाइन पोर्टल को सर्च करें

अखबार पढ़ने के साथ ही आप इंटरनेट की दुनिया से भी जुड़ सकते हैं। अब चूंकि ढेर सारे ऑनलाइन पोर्टल आ गए हैं, जो आपको दुनिया भर की खबरों से रूबरू कराते हैं, इसलिए इंटरनेट फ्रेंडली रहना जरूरी है। हालांकि ऑथेटिंक साइट्स से मिली जानकारी पर ही ज्यादा ध्यान दें। इसके अलावा इंटरनेट पर ऐसी ढेर सारी एप्लीकेशन हैं, जो परीक्षा के लिए मॉक टेस्ट लेती हैं, जिसका हिस्सा बनकर आप अपनी तैयारी का आकलन आसानी के साथ कर सकते हैं।

दस साल के घटनाक्रम पर ध्यान दें

एसएससी की परीक्षा क्लियर करने के लिए रीजनिंग पर ध्यान देना जरूरी है। रीजनिंग के लिए बाजार में ढेर सारी किताबें हैं, जिन्हें आप खरीद सकते हैं। परीक्षा में आमतौर पर पिछले दस साल के घटनाक्रम पर फोकस किया जाता है। इसलिए आप ऐसी किताबें हासिल कर सकते हैं, जिनमें रीजनिंग से जुड़े पिछले दस साल के प्रश्नपत्र शामिल हों।

About Mohd. razi

हिंदी पत्रकारिता में 14 वर्ष का अनुभव। दैनिक जागरण और अमर उजाला में काफी वक्त दिया।

Check Also

ssc cpo recruitment

एसएससी सीपीओ भर्ती-2019 । SSC CPO recruitment-2019

एसएससी यानी कर्मचारी चयन आयोग सीपीओ पद पर भर्ती के लिए परीक्षा का आयोजन करता …