Home / sarkari naukri / बीआरओ एडमिट कार्ड 2019 । BRO Admit Card 2019

बीआरओ एडमिट कार्ड 2019 । BRO Admit Card 2019

अपने देश के पास एक संगठन है जिसकी भूमिका सेना से कम नहीं है। इस संगठन ने देश के दुर्गुम सीमावर्ती इलाकों तक सड़क बनाकर सुरक्षा को मजबूती प्रदान की है। नामुमकिन को मुमकिन बनाने का काम किया है सीमा सड़क संगठन यानि बीआरओ ने। बीआरओ में इस समय भर्ती के लिए आवेदन की प्रक्रिया चल रही है। जल्द ही इसके एडमिट कार्ड अपलोड कर दिए जाएंगे। हम आपको भर्ती के साथ ही एडमिट कार्ड को डाउनलोड करने की प्रक्रिया के बारे में विस्तार से बताएंगे।

BRO

सीमा सड़क संगठन के कर्मचारियों को आप सैनिक से कम न समझें। यह लोग जिन इलाकों में काम करते हैं, वहां दुनिया के सबसे मजबूत देश की विश्व प्रसिद्ध कंपनी भी काम नहीं कर सकती। बीआरओ ने हिमालय की दुर्गम पहाड़ियों का सीना चीरकर देश की पहुंच चीन सीमा तक कर दी है। सड़कें बनने के बाद ही सैन्य गतिविधियों में भी बढ़ोतरी हुई है और देश सुरक्षित हुआ है।

बीआरओ एडमिट कार्ड 2019 की जानकारी। BRO Admit card 2019

  • एडमिट कार्ड को डाउनलोड करना सीखने के पहले बीआरओ व भर्ती प्रक्रिया के बारे में भी कुछ जान लीजिए।
  • बीआरओ को सैनिक या अर्द्धसैनिक बल कह सकते हैं। यह रक्षा मंत्रालय के अंतर्गत आता है। इसके अधिकारी और कर्मचारी भी सैनिकों की तरह वर्दी पहनते हैं और विपरीत परिस्थितियों में काम करते हैं।
  • बीआरओ ने इस पर विभिन्न पदों के लिए कुल 778 वेकैंसी निकाली है। सारे पद टेक्निकल हैं।
  • इस बार डीवीआरएमटी (ओजी) के 388, इलेक्ट्रीशियन के 101, व्हील मैकेनिक के 92 और मल्टी स्किल्ड वर्कर के 197 पदों पर भर्ती के लिए विज्ञापन निकाला गया है।
  • सभी पदों के लिए शैक्षणिक योग्यता भी अलग अलग है। आपको अधिक जानकारी के लिए दिए गए लिंक http://bro.gov.in/WriteReadData/linkimages/3725353244-Vacancies.pdf पर क्लिक करना होगा।
  • इससे आप बीआरओ की ऑफिशियल वेबसाइट पर पहुंच जाएंगे। यहां पर आपको वर्ग व जाति के अनुसार आरक्षित पदों का अलग-अलग ब्योरा मिल जाएगा।
  • फार्म भरने व डाउनलोड करने के लिए आप दिए गए लिंक http://bro.gov.in/WriteReadData/linkimages/9558409500-Untitled.pdf पर क्लिक करें।
  • यहां पर आपको फार्म की पीडीएफ फाइल मिल जाएगी। इससे से आप फार्म को डाउनलोड कर सकते हैं।
  • आपको फार्म के नीचे की ही ओर हर पद के लिए अर्हता की जानकारी भी मिल जाएगी।
  • टेक्निकल पदों के लिए आईटीआई, डिप्लोमा व कुछ पदों के लिए इंजीनियरिंग की डिग्री की आवश्यकता होती है।
  • आपको फार्म के साथ फोटो, सर्टिफिकेट की फोटो स्टेट व अन्य डॉक्यूमेंट्स संलग्न करने होंगे। आपको फार्म किस पते पर भेजना है, इसकी भी जानकारी इसी पेज पर मिल जाएगी।
  • फार्म को रजिस्टर्ड डाक से ही भेजें। फार्म जमा करने की आखिरी तारीख की घोषणा अभी नहीं की गई है।
  • एडमिट कार्ड आपके घर के पते पर ही भेजा जाएगा। अगर फार्म नहीं मिल पाता है तो आप ई एडमिट कार्ड भी डाउनलोड कर सकते हैं।
  • इसके लिए आपको बीआरओ भर्ती की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा। यहां पर आपको एडमिट कार्ड का लिंक मिलेगा। आप जन्म तिथि व रजिस्ट्रेशन नंबर भरकर एडमिट कार्ड को डाउनलोड कर सकते हैं।

बीआरओ का इतिहास

  • सीमा सड़क संगठन की स्थापना 1960 में की गई थी। इसके गठन की वजह चीन व अन्य सीमावर्ती दुरुह इलाकों सड़क मार्ग का न होना थी।
  • सड़क बनाने वाली देश की अन्य संस्थाएं दुर्गम इलाकों में सड़कें बनाने में नाकाम रही थीं। इसलिए एक अलग संगठन ही बनाया गया।
  • बीआरओ के गठन के पूर्व पूर्वोत्तर के कुछ इलाकों तक पहुंचने के कई दिन का पैदल रास्ता तय करना होता था।
  • बीआरओ ने सिक्किम, भूटान, अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर, नागालैंड, त्रिपुरा, मेघालय, जम्मू कश्मीर, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, अंडमान व निकोबार में सड़कों का निर्माण किया।
  • अब तक बीआरओ पूरे देश में 46980 किमी सड़कों का निर्माण कर चुका है। बीआरओ ने ही बिहार, झारखंड व ओडिशा के कोयला खदानों की सड़कों को एक लेन से दो लोन का बनाया है।
  • इस संगठन ने देश के कोने-कोने में 129302 मीटर अस्थाई पुलों का निर्माण किया है। इन पुलों से भारी वाहन भी होकर गुजर सकते हैं।
  • बीआरओ ने उन नदियों पर पुल बनाए हैं, जहां पर तेज धारा की वजह से पिलर नहीं बन पाए थे।
  • बीआरओ ने दूसरे देशों को भी सेवाएं दी हैं। बीआरओ ने अफगानिस्तान के निमरोज प्रांत में भी 215 किमी सड़क का निर्माण किया है।
  • सड़क बनने के पहले अफगानिस्तान के लोगों को पैदल या खच्चर से ही यह रास्ता तय करना होता था। अमरीका जैसा देश भी इस बीहड़ इलाके में सड़क बनाने की हिम्मत नहीं जुटा सका। यह काम बीआरओ ने तय समय के पहले ही पूरा करके दिखा दिया।
  • बीआरओ में सिविल के साथ ही मैकेनिकल व अन्य विधाओं के पद भी होते हैं। इस संगठन में गैर तकनीकी पदों पर भी भर्ती होती है।
  • बीआरओ के बारे में अन्य जानकारी के लिए आप यहां पर क्लिक करें

About Ashutosh Srivastava

हिंदी पत्रकारिता में 21 वर्ष का अनुभव। दैनिक जागरण और अमर उजाला में लंबा समय दिया।

Check Also

upnhm

यूपीएनएचएम भर्ती 2019 । UPNHM Recruitment 2019

राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, उत्तर प्रदेश यानि यूपीएनएचएम ने विभिन्न पदों पर भर्ती के लिए नोटिफिकेशन …