Home / sarkari naukri / इंडिया पोस्ट एडमिट कार्ड 2019 । India post Admit Card 2019

इंडिया पोस्ट एडमिट कार्ड 2019 । India post Admit Card 2019

डाक विभाग में नौकरी के लिए आवेदन करने वाले युवा अब तैयारी में जुट जाएं। सिलेबस को वेबसाइट से डाउनलोड कर तैयारी शुरू कर दें। आज हम आपको डाक विभाग के बारे में खास बातों को बताने के साथ ही India post Admit Card 2019 को डाउनलोड करने का तरीका भी सिखाएंगे ताकि आपको कोई दिक्कत न हो।

post office

डाक विभाग ने जिन क्षेत्रों के 1735 पदों के लिए भर्ती प्रक्रिया शुरू की है, वह विभिन्न प्रांतों के हैं। भर्ती दिल्ली, झारखंड व हिमाचल प्रदेश के लिए निकाली गई है। आवेदक को भर्ती के लिए एक ही जगह से आवेदन करना होगा। आवेदन के बाद चयन लिखित परीक्षा के आधार पर होगा। अभ्यर्थियों को अपनी पसंद का राज्य चुनने का विकल्प मिलेगा लेकिन उनको वरीयता भी देनी होगी। पसंद का राज्य न मिलने पर उनको दूसरे राज्य में भेजा जा सकता है। राज्य वरीयता के आधार पर मिलेंगे। एक बार राज्य एलॉट हो जाने के बाद अभ्यर्थी ज्वाइनिंग से आनाकानी नहीं कर सकते।

डाक विभाग एडमिट कार्ड 2019 की पूरी जानकारी । India Post Admit Card 2019

  • डाक विभाग ने जिन पदों के लिए भर्ती की प्रक्रिया शुरू की है, उनमें से 174 दिल्ली, 804 दिल्ली व 757 हिमाचल प्रदेश के हैं।
  • भर्ती डाक विभाग में असिस्टेंट ब्रांच पोस्ट मास्टर, डाक सेवक और ब्रांच पोस्ट मास्टर के पद पर होनी है।
  • आवेदक की आयु कम से कम 18 वर्ष होनी चाहिए। अधिकतम आयु की सीमा 40 वर्ष निर्धारित की गई है।
  • आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों को केंद्र सरकार के नियमों के अनुसार आयु सीमा में छूट प्रदान की जाएगी।
  • ईडब्ल्यूएस आवेदकों को अपर एज लिमिट में कोई छूट नहीं मिलेगी। डाक सेवक के लिए आवेदन करने वाले अभ्यर्थी को कम से कम हाईस्कूल पास होना चाहिए।
  • अन्य पदों के लिए शैक्षणिक योग्यता अलग-अलग रखी गई है। आवेदन प्राप्त करने और परीक्षा की फीस जमा करने की प्रक्रिया खत्म हो चुकी है।
  • रजिस्ट्रेशन और फीस जमा करने की आखिरी तारीख 5 जुलाई निर्धारित की गई थी। अब इसे बढ़ाकर 12 जुलाई कर दिया गया था।
  • ऑनलाइन आवेदन की आखिरी तारीख को 12 जुलाई से बढ़ाकर 19 जुलाई कर दिया गया है।
  • एप्लीकेशन जमा करने का काम 13 जून से आरंभ है।
    • ऑनलाइन आवेदन करने के लिए आपको डाक विभाग की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना था। वेबसाइट पर यहां पर क्लिक करके पहुंचें।
  • वेकेंसी अलग-अलग इलाकों की अलग-अलग पदों के लिहाज से जारी की गई है। आवेदक को फार्म में जगह और पद का नाम भरना होगा।
  • फार्म भरते वक्त पूरी सावधानी बरतें। जरा सी भी गलती हो जाने पर फार्म रिजेक्ट हो जाएगा। ऑनलाइन फार्म जमा करने वालों को भी गंभीरता दिखानी होगी।
  • ऑनलाइन फार्म भरने में भी कोई गलती हो गई तो सुधार का दोबारा मौका नहीं मिलेगा।
  • ऑनलाइन आवेदन करते वक्त नाम, पिता का नाम, जन्म तिथि, पता व पोस्ट जिसके लिए आवेदन कर रहे हैं, इसका उल्लेख करना होगा।
  • फार्म के साथ ही आवेदक को फोटो व सिग्नेचर को भी अपलोड करना होगा। शैक्षणिक प्रमाण पत्रों को भी डालना होगा।
  • अब एडमिट कार्ड को डाउनलोड करने का तरीका भी जान लीजिए। इसके लिए आपको यहां पर क्लिक करना होगा
  • कुछ दिनों इसी वेबसाइट पर एडमिट कार्ड लिंक आ जाएगा। आपको इसको क्लिक करके रजिस्ट्रेशन नंबर व जन्म तिथि को भरना होगा।
  • इसके बाद आपका एडमिट कार्ड ओपन हो जाएगा। आप डाउनलोड कर इसका प्रिंट निकाल सकते हैं। अगर आपके घर पर प्रिंटर नहीं है तो आप एडमिट कार्ड को डाउनलोड कर पेन ड्राइव में सेव कर लें।
  • आप साइबर कैफे पर जाकर इसका प्रिंट निकाल सकते हैं।

डाक विभाग का इतिहास

  • डाक विभाग में नौकरी के लिए आवेदन करने जा रहे हैं तो इसका इतिहास भी जान लीजिए। अब इसका इतना महत्व नहीं रहा लेकिन एक वक्त था जब डाक ही संचार का सबसे बड़ा माध्यम होता था।
  • 1766 में लार्ड क्लाइव ने भारत में डाक सेवा की शुरुआत की थी। पहली बार पत्र को एक शहर से दूसरे शहर रजिर्स्ड करके भेजा गया था।
  • 1774 में वारेन हेस्टिंग्स ने देश के पहले डाकघर की स्थापना कोलकाता में की थी।
  • 1786 में मद्रास में प्रधान डाकघर की स्थापना की गई। 1793 में मुंबई में प्रधान डाकघर खोला गया।
  • 1854 में भारत में पोस्ट ऑफिस को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मान्यता मिली। 1863 में रेल डाक सेवा की शुरुआत हुई।
  • 1873 में नक्काशीदार लिफाफे की बिक्री आरंभ हुई। 1876 में भारत पार्सल पोस्टल यूनियन में शामिल हुआ।
  • 1877 में वीवीवी और पार्सल सेवा की शुरुआत की गई है। 1879 में पोस्ट कार्ड अस्तित्व में आया।
  • 1890 में मनीआर्डर की व्यवस्था शुरू हुई। इसे क्रांतिकारी बदलाव माना गया। लोग भारत में एक से दूसरी जगह पर रुपये भेज सकते थे।
  • 1911 में प्रथम एयरमेल सेवा की शुरुआत हुई। यह सेवा इलाहाबाद से नैनी के बीच शुरू हुई थी। नैनी इलाहाबाद का ही एक औद्योगिक कस्बा है।
  • 1935 में इंडियन पोस्टल आर्डर की शुरुआत हुई।
  • 1972 में पिन कोड की व्यवस्था शुरू की गई। 1984 में डाक विभाग ने जीवन बीमा के क्षेत्र में कदम रखा।
  • 1985 में पोस्ट ऑफिस और टेलीकाम डिपार्टमेंट अलग-अलग किए गए।
  • 1986 में स्पीड पोस्ट सेवा की शुरुआत की गई है। 1990 में डाक विभाग ने मुंबई व चेन्नई में दो स्वचालित डाक प्रसंस्करण केंद्र स्थापित किए।
  • 1995 में ग्रामीण डाक जीवन बीमा की शुरुआत हुई। 1999 में डाटा डाक व एक्सप्रेस डाक सेवा की शुरुआत की गई।
  • 2000 में ग्रीटिंग पोस्ट सेवा आरंभ। 2001 में इलेक्ट्रानिक फंड ट्रांसफर सेवा शुरू।
  • 10 अगस्त 2004 में लोजिस्टिक पोस्ट सेवा की शुरुआत की गई।

About Ashutosh Srivastava

हिंदी पत्रकारिता में 21 वर्ष का अनुभव। दैनिक जागरण और अमर उजाला में लंबा समय दिया।

Check Also

http://www.cgmsc.gov.in

सीजेएमएससी भर्ती 2019 । CJMSC recruitment 2019

छत्तीसगढ़ चिकित्सा सेवा निगम लिमिटेड यानि सीजीएमएससी में बंपर भर्तियां आई हैं। भर्ती ड्रग डेटा …