Home / sarkari naukri / झारखंड शिक्षक भर्ती 2019 । Jharkhand teacher recruitment 2019

झारखंड शिक्षक भर्ती 2019 । Jharkhand teacher recruitment 2019

झारखंड में आरक्षित कोटे के हाईस्कूल शिक्षकों के रिक्त पदों पर भर्ती की प्रक्रिया जल्द ही आरंभ होगी। इस बात की जानकारी झारखंड सरकार ने हाईकोर्ट में दी है। सरकार की तरफ से कहा गया है कि आरक्षित वर्ग के हाईस्कूलों में रिक्त 25 फीसदी सीटों पर प्रइमरी शिक्षकों की सीधी नियुक्ति की जाएगी। हम आपको Jharkhand teacher recruitment 2019 के बारे में विस्तार से जानकारी देते हैं।

teacher

झारखंड में आरक्षित वर्ग के उम्मीदवार न मिल पाने के कारण हाईस्कूलों में शिक्षकों के हजारों पद रिक्त पड़े हैं। इसको भरने की प्रक्रिया आरंभ नहीं की गई है। इस बात को लेकर कुछ लोग हाईकोर्ट गए तो सरकार ने मौखिक रूप से पदों को सीधी भर्ती से भरने की बात कही है। सरकार को तीन सप्ताह के भीतर लिखित जवाब दाखिल करने को कहा गया है।

झारखंड शिक्षक भर्ती 2019 की पूरी जानकारी । Jharkhand teacher recruitment 2019

  • झारखंड के हाईस्कूलों में शिक्षकों के आरक्षित वर्ग के पद रिक्त पड़े हैें। यह पद योग्य उम्मीदवारों के न मिल पाने के कारण भरे नहीं जा सके।
  • इस संदर्भ में याचिका हाईकोर्ट में दाखिल की गई थी। याचिकाकर्ताओं का कहना था कि हाईस्कूल शिक्षकों की नियुक्ति में 25 प्रतिशत सीट प्राइमरी स्कूलों के शिक्षकों से भरी जानी थी।
  • इन पदों के लिए योग्य उम्मीदवार नहीं मिले तो सरकार ने पदों को रिक्त छोड़ दिया। इन पदों को सीधी भर्ती के माध्यम से भरा जाना चाहिए।
  • माध्यमिक विद्यालय शिक्षक एवं शिक्षणेत्तर कर्मचारी नियुक्ति एवं सेवा शर्त नियामवली 2015 का हवाला भी याचिकाकर्ताओं ने दिया।
  • सरकार ने नियुक्ति के लिए जो विज्ञापन निकाला, उसमें इसका उल्लेख नहीं किया गया। इसका मतलब था कि सीधी भर्ती नहीं की जाएगी।
  • याचिकाकर्ताओं ने इसी बात को आधार बनाकर याचिका हाईकोर्ट में दायर की।
  • सुनवाई के दौरान सरकार को नोटिस भेजा गया तो स्थिति स्पष्ट की गई। बताया गया कि आरक्षित वर्ग के हाईस्कूल शिक्षकों के 25 फीसदी पदों पर प्राइमरी शिक्षकों की सीधे नियुकति की जाएगी।
  • सरकार इस बात से सहमत है। हालांकि यह जवाब मौखिक रूप से दिया गया था। लिखित में जवाब न मिलने पर हाईकोर्ट ने सरकार को निर्देश दिया कि जो बातें उन्होंने कहीं हैं, उससे संबंधित हलफनामा तीन सप्ताह के दाखिल करें।
  • यह मामला काफी दिनों से चर्चा में है। मामला झारखंड विधान सभा में भी उठ चुका था लेकिन इस पर ध्यान नहीं दिया गया।
  • बाद में हंगामा होने पर शिक्षा मंत्री ने घोषणा की कि आरक्षित कोटे की सीटों को सीधी भर्ती के माध्यम से भरा जाएगा।
  • सरकार की इस घोषणा से आरक्षित वर्ग के प्राइमरी शिक्षकों ने राहत की सांस ली है। हाईकोर्ट में जवाब दाखिल करने के कुछ दिन के बाद ही भर्ती का नोटिफिकेशन जारी किया जा सकता है।

About Ashutosh Srivastava

हिंदी पत्रकारिता में 21 वर्ष का अनुभव। दैनिक जागरण और अमर उजाला में लंबा समय दिया।

Check Also

आरपीएससी सीनियर टीचर भर्ती 2020 । Rpsc senior teacher recruitment 2020 in Hindi

राजस्थान लोक सेवा आयोग की सीनियर टीचर ग्रेट-2 भर्ती के लिए काउंसिलिंग तिथि जारी कर …