Home / sarkari naukri / आरआरबी एप्लीकेशन स्टेटस । RRB Application Status

आरआरबी एप्लीकेशन स्टेटस । RRB Application Status

आरआरबी ने एप्लीकेशन स्टेटस चेक करने के लिए ऑनलाइन व्यवस्था कर दी है। आरआरबी ने स्टेटस चेक करने के लिए वेबसाइट पर लिंक एक्टिव कर दिया है। आरआरबी की वेबसाइट पर आवेदक कुछ जानकारियों को भरकर एप्लीकेशन स्टेटस को चेक कर सकेंगे। अब हम आपको आरआरबी एप्लीकेशन स्टेटस 2019 को चेक करने का तरीका बताते हैं।

online exam

रेलवे भर्ती बोर्ड यानि आरआरबी ने मेडिकल स्टाफ के 1937 पदों को भरने के लिए प्रक्रिया शुरू की थी। भर्ती रेलवे के अस्पतालों में पैरामेडिकल स्टॉफ की होनी है। जिन पदों पर भर्ती होनी है, उनके नाम हैं डायटीशियन, स्टाफ नर्स, डेंट हाईजीनिस्ट, फिजियोथेरेपिस्ट, फार्मासिस्ट और लैब असिस्टेंट।

आरआरबी एप्लीकेशन स्टेटस 2019 के बारे में पूरी जानकारी । RRB Application Status

  • भर्ती 21 आरआरबी से संबंधित एरिया में निकाली गई थी। इसके लिए आवेदन की प्रक्रिया इसी साल मार्च में शुरू हुई थी।
  • मार्च में ही ऑनलाइन आवेदन जमा करा लिए गए। अभ्यर्थियों को फार्म के साथ अपने शैक्षणिक सर्टिफिकेट भी अपलोड करने थे।
  • सारी भर्तियां टेक्निकल पदों के लिए हैं। इसे वही लोग भर सकते थे जिनके पास टेक्निकल डिग्री हो।
  • अभ्यर्थियों ने आवेदन ऑनलाइन ही जमा किए थे। आवेदन के बाद रेलवे ने फार्मों की जांच में लगभग दो महीने का समय लिया।
  • यह पद लेवल 4 से लेवल 7 तक के हैं। चयनित उम्मीदवारों को रेलवे की तरफ से 44 हजार रुपये का प्रतिमाह मानदेय दिया जाएगा।
  • भर्तियां आरआरबी के विभिन्न कार्यालयों के अंतर्गत निकाली गई हैं।
  • स्टेटस जानने के लिए आपको अपने क्षेत्रीय कार्यालय के नाम पर क्लिक करना है। क्षेत्रीय कार्यालयों के लिंक यह रहे अहमदाबाद, पटना, अजमेर, इलाहाबाद, बेंगलुरू, भोपाल, बिलासपुर, चंडीगढ़, चेन्नई, गोरखपुर, गुवाहटी, जम्मू, कोलकाता, मालदा, मुंबई, मुजफ्फरपुर, रांची, सिकंदराबाद, सिलिगुड़ी, त्रिवेंद्ररम ।
  • आरआरबी की ऑफिशियल वेबसाइट पर आपको एप्लीकेशन स्टेटस चेक करने का लिंक मिलेगा।
  • अभ्यर्थियों को लिंक को ओपन करने के बाद अपना रजिस्ट्रेशन नंबर व जन्म तिथि को भरना होगा। इसके बाद कंप्यूटर के स्क्रीन पर एप्लीकेशन का स्टेटस जा आएगा।
  • अभ्यर्थियों को पता चल जाएगा कि उनका फार्म एक्सेप्ट हुआ है कि रिजेक्ट। फार्म एक्सेप्ट होने का संदेश मिलने के बाद आपको कुछ दिन और वेट करना होगा।
  • आपको कुछ ही दिन बाद वेबसाइट पर एडमिट कार्ड डाउनलोड करने का लिंक भी मिलेगा। आप रजिस्ट्रेशन नंबर और जन्म तिथि को भरकर एडमिट कार्ड भी डाउनलोड कर सकेंगे।
  • लिखित परीक्षा के जुलाई में होने की संभावना है। इसकी जानकारी भी आपको वेबसाइट पर ही मिलेगी। इसलिए वेबसाइट पर नियमित नजर बनाए रखें।

ये भी पढ़ें

रेलवे ग्रुप डी सिलेबस

दुनिया में कोई भी चीज कठिन नहीं और कोई चीज भी आसान नहीं। जिस व्यक्ति ने इस मंत्र को जान लिया, सफलता उसके कदम चूमती है। ऐसा ही रेलवे ग्रुप डी भर्ती एग्जाम के मामले में भी है। इस एग्जाम में रखा तो कुछ नहीं है लेकिन अगर सिलेबस पर फोकस नहीं किया तो मामला टांय-टांय फिस्स हो जाएगा। 

अधिकांश छात्र रेलवे भर्ती बोर्ड द्वारा कराई जाने वाली ग्रुप डी परीक्षा के सिलेबस को लेकर गंभीर नहीं होते। लोग सोचते हैं कि ग्रुप डी के एग्जाम को तो चुटकी बजाकर ही निकाल लेंगे। यहीं वे गलती कर बैठते हैं। ग्रुप डी को आप किसी हॉयर लेवल के एग्जाम से कम मत समझिए। छंटनी करने के उद्देश्य को कोश्चयन पेपर का लेवल काफी हाई कर दिया गया है।

एक तो परीक्षा में अभ्यर्थी बहुत होते हैं और दूसरा कोश्चयन का लेवल भी काफी टफ कर दिया गया है। ऐसा इसलिए है ताकि जो छात्र गंभीर न हों वे स्क्रीनिंग टेस्ट में ही बाहर हो जाएं। इसलिए कठिन सवाल खूब रखे जाते हैं। अधिकांश सामान्य ज्ञान व लॉजिक से रिलेटेड होते हैं।

आप भी गच्चा न खा जाएं, इसलिए आपको रेलवे ग्रुप डी की लिखित परीक्षा के पैटर्न व सिलेबस के बारे में पता होना चाहिए। हम आपको इसके बारे में विस्तार से बताएंगे। आपको पता चल जाएगा कि किस टॉपिक से सवाल उठाए जाते हैं और वे किस तरह के होते हैं। इससे आपका रिटर्न एग्जाम निकालना आसान हो जाएगा।

रेलवे ग्रुप डी सिलेबस की प्रमुख बातें

  • सभी सवाल आब्जेक्टिव होंगे। मतलब एक प्रश्न के साथ चार विकल्प दिए गए होंगे। आपको इनमें से सही का चुनाव करना है। तुक्का मारने की कोशिश कतई न करें। एक सवाल का गलत जवाब आपको एग्जाम की रेस से बाहर करा देगा।
  • सामान्य ज्ञान ग्रुप डी एग्जाम का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है। आप सबसे पहले एग्जाम के पुराने कोश्चयन पेपर्स को देख लें। इससे आपका कान्सेप्ट क्लीयर हो जाएगा कि सवाल किस तरह के पूछे जाते हैं।
  • इसमें ज्यादातर सवाल करेंट अफेयर्स से रिलेटेड होते हैं। जो कुछ प्रमुख घटनाएं हाल ही में हुई है, उससे जुड़े सवाल जरूर पूछे जाएंगे।
  • इसलिए जरूरी है कि आप हाल फिलहाल की हर क्षेत्र में हुई प्रमुख घटनाओं पर पैनी नजर रखें। स्पोर्ट्स, पॉलिटिक्स के साथ अवार्ड व विवादों की जानकारी होनी भी जरूरी है।
  • करेंट अफेयर में आपकी सबसे अधिक मदद न्यूज पेपर्स करेंगे। एग्जाम की तारीख का ऐलान होने के बाद कम से कम छह महीने के अखबार के पन्नों को पलट डालें।
  • जितनी भी प्रमुख घटनाएं हुई हैं, उनको एक जगह पर नोट कर लें। अवार्ड व स्पोर्ट्स पर जरूर फोकस करिए। अवार्ड व खेल से जुड़े सवाल जरूर पूछे जाते हैं।
  • सिलेबस का दूसरा महत्वपूर्ण हिस्सा होता है रिजनिंग कोश्चयन का। इसमें आपकी तार्किक क्षमता की जांच होती है। उलझाऊ सवाल आपके सामने होंगे और आपको सही विकल्प को चुनना होगा।
  • सवाल होते ही हैं उलझाने के लिए। इसलिए ध्यान रखें, उलझना नहीं है। सॉल्यूशन खोजना है। सवाल का तरीका भी बहुत दिलचस्प होता है।
  • इसको उदाहरण से समझने की कोशिश करें। आपको पुराने कोश्चयन पेपर्स से भी आइडिया मिल जाएगा कि तार्किक सवाल किस तरह के होते हैं।
  • ग्रुप डी के सिलेबस में इसकी भी परख होगी कि आपको विश्व का कितना ज्ञान है। दुनिया भर में हुई प्रमुख घटनाओं से जुड़े सवाल भी आपसे जरूर पूछे जाएंगे।
  • सवाल हो सकता है कि हाल ही के चुनाव में किसी देश का कौन राष्ट्रपति चुना गया है। या यह भी पूछा जा सकता है कि राष्ट्रपति चुनाव में विजयी कोई व्यक्ति पहले किस क्षेत्र में प्रसिद्ध था। इसका मतलब है कि आपको बैकग्राउंड की भी अच्छी तरह से जानकारी होनी चाहिए।
  • मार्केट में मॉडल पेपर्स भी उपलब्ध हैं। आपको इसका भी अध्ययन करना चाहिए। इससे आपको काफी कुछ पता चल जाएगा। इसकी भी जानकारी मिल जाएगी कि प्रश्नपत्र कैसा होता है।
  • मॉडल पेपर्स एग्जाम की डेट से कुछ ही दिन पहले प्रकाशित किए जा सकते हैं। इसलिए इससे भी आपको ताजातरीन घटनाओं की जानकारी मिल जाएगी।
  • आप करेंट अफेयर्स के लिए अच्छी मैग्जीन का भी चुनाव कर सकते हैं। प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिहाज से कई मैग्जीन भी प्रकाशित की जाती हैं। इसमें परीक्षा के लिहाज से महत्वपूर्ण टॉपिक जरूर होते हैं। इनको वही लोग तैयार करते हैं जो लंबे समय से परीक्षाओं की तैयारी करवा रहे हैं।
  • ग्रुप डिस्कशन भी तैयारी का अच्छा तरीका है। आप अपने उन दोस्तों के साथ जरूर बैठें जो परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं। साथ बैठने से उनकी जानकारियों का लाभ आपको मिलेगा और आपकी जानकारियों का उनको।

 इन बातों का रखें ध्यान

  1. ग्रुप डी की तैयारी कर रहे हैं तो आपको आरआरबी की वेबसाइट जरूर देखनी चाहिए। समय-समय पर इस पर भर्ती की सूचनाएं आती हैं।
  2. आपको वेबसाइट पर पहले ही सूचना मिल जाएगी कि भर्ती परीक्षा का कार्यक्रम कब घोषित होगा। कार्यक्रम घोषित होने के बाद पूरी जानकारी दी जाएगी कि कब तक फार्म जमा करना है।
  3. फार्म आने के पहले ही आप अपने प्रमाण पत्रों व फोटो को तैयार रखें। फार्म को जमा करने के लिए कभी आखिरी तारीख का इंतजार न करें।
  4. अगर आप वेबसाइट पर नजर नहीं रखेंगे तो चूक हो सकती है। कई बार कार्यक्रम घोषित होने और फार्म जमा करने की तारीख के बीच ज्यादा अंतर नहीं होता।
  5. एक, दो बार की असफलता से निराश न हों। अनुभव से सीखें और अपनी तैयारी को और पुख्ता करें।
  6. जिन परीक्षाओं में फिजिकल टेस्ट लिया जाता है, उसके लिए भी तैयारी रखें। दौड़ने व वजन उठाने का नियमित अभ्यास करें।

About Ashutosh Srivastava

हिंदी पत्रकारिता में 21 वर्ष का अनुभव। दैनिक जागरण और अमर उजाला में लंबा समय दिया।

Check Also

bpsc block officer recruitment

बीपीएससी ब्लॉक अधिकारी भर्ती-2019 । BPSC block officer recruitment-2019

बिहार लोक सेवा आयोग ब्लॉक पंचायत राज अधिकारी के पदों पर भर्ती करेगा। बीपीएससी ने …