Home / sarkari naukri / एसएससी एग्जाम्स । Ssc exams in Hindi

एसएससी एग्जाम्स । Ssc exams in Hindi

भारत में हर साल लाखों परीक्षार्थी एसएससी एग्जाम्स की तैयारी करते हैं। उनका सपना सरकारी विभागों में नौकरी पाना तो है ही, वे स्टेट गवर्नमेंट की बजाय केंद्रीय विभागों में नौकरी करने को तरजीह भी देते हैं। यही वजह है कि बड़ी संख्या में युवा एसएससी की परीक्षा में बैठते हैं, ताकि उनका सपना पूरा हो सके।

एसएससी एग्जाम्स कैसे होते हैं। इसका फुल फार्म क्या है। भारत में हर साल कितने लोग एसएससी की परीक्षा में बैठते हैं। इससे जुड़ी हर जानकारी हम आपको देंगे। तो चलिए हम आपको बताते हैं कि एसएससी क्या है और आप इसकी तैयारी किस तरह कर सकते हैं।

ssc exams

एसएससी एग्जाम्स ।  Ssc exams

कर्मचारी चयन आयोग का काम केंद्रीय विभागों के लिए बी और सी श्रेणी के कर्मचारियों का चयन करना है। एग्जाम्स का आयोजन प्रदेश स्तर पर किया जाता है। सभी प्रदेशों में कर्मचारी चयन आयोग है, एसएससी जो हर साल लाखों परीक्षार्थियों का चयन करता है। परीक्षा के सफल आयोजन के लिए प्रदेश सरकार की मदद भी ली जाती है।

एसएससी का फुल फार्म क्या है

एसएससी का फुल फार्म स्टाफ सेलेक्शन कमीशन है। हिंदी में इसे कर्मचारी चयन आयोग कहा जाता है। यह एक सेलेक्शन बॉडी है, जो केंद्र के अधीन है। एसएससी परीक्षा में चयन होने के बाद सफल परीक्षार्थियों को केंद्रीय विभागों में तैनाती मिलती है।

कब हुई आयोग की स्थापना

एसएससी यानी कर्मचारी चयन आयोग की स्थापना 1977 में हुई थी। आयोग का काम परीक्षा का सफल आयोजन तो कराना है ही, योग्य उम्मीदवारों को केंद्र के अलग-अलग विभागों में नियुक्त भी करना है।

कोई भी परीक्षार्थी अपनी योग्यता और आयोग के तय नियमों के अनुसार एसएससी की परीक्षा में हिस्सा ले सकता है। परीक्षा के सफल आयोजन के लिए प्रदेश सरकारों की मदद भी ली जाती है। लगभग सभी प्रदेशों में कर्मचारी चयन आयोग है, जो हर साल अलग-अलग तरह की परीक्षाओं का अयोजन करता है।

एसएससी की परीक्षाएं

  • सीएपीएफ यानी सेंट्रल आर्मड पुलिस फोर्स
  • जेई यानी जूनियर इंजीनियर
  • स्टेनो यानी स्टेनोग्राफी
  • सीएचएसएल यानी कंबाइंड हायर सेकेंडरी लेवल
  • सीजीएल यानी कंबाइंड ग्रेजुएट लेवल

सीएचएसएल लेवल क्या है

एसएससी की सीएचएसएल लेवल की परीक्षा तीन चरणों में पूरी होती है, जिन्हें टियर वन, टियर टू और टियर थ्री कहा जाता है।। इस परीक्षा में बैठने के लिए परीक्षार्थियों के लिए बारवीं कक्षा पास होना जरूरी है। इस परीक्षा में वही युवा बैठ सकते हैं, जिनकी उम्र 18 साल से लेकर 27 साल के बीच है।

कोई भी छात्र अगर इस नियम के दायरे में आता है तो वह एसएससी की एसएचएसएल लेवल की परीक्षा में आसानी के साथ शामिल हो सकता है। खास बात यह है कि आरक्षण के दायरे में आने वाले परीक्षार्थियों के लिए सरकारी नियमानुसार छूट का प्रावधान है।

टियर वन

टियर वन टाइप परीक्षा में आब्जेक्टिव सवाल पूछे जाते हैं। इसमें आपको एक घंटे का समय मिलेगा। सभी प्रश्न दो-दो अंकों के साथ कुल सौ प्रश्न होंगे। इसमें निगेटिव मार्किंग भी होती है। यानी अगर जवाब गलत होंगे तो आपके नंबर काट लिए जाएंगे। इसके अलावा यह परीक्षा कंप्यूटर आधारित होती है।

सिलेबस क्या है

  • रीजनिंग
  • अंग्रेजी सामान्य
  • सामान्य जागरूकता
  • संख्यात्मक अभियोग्यता

टियर-2

टियर टू टाइप परीक्षा में अभ्यर्थियों को लिखित परीक्षा देनी होती है। परीक्षा सौ अंकों की होती है। आमतौर पर इसमें 200 शब्दों के एक निबंध और 150 शब्दों में एक पत्र लिखना होता है। परीक्षार्थियों के लिए जरूरी है कि वे इसमें वर्तनीय गलती न करें।

टियर-3

टियर-3 चरण की परीक्षा में टाइपिंग टेस्ट लिया जाता है। इसके साथ ही कंप्यूटर की जानकारी से जुड़े सवाल भी पूछे जाते हैं। इसलिए जरूरी है कि अगर आप एसएससी की तैयारी कर रहे हैं तो आपको कंप्यूटर का बेसिक ज्ञान होना चाहिए।

अंग्रेजी टाइपिंग के लिए एक मिनट में 35 शब्द लिखना होगा, जबकि हिंदी टाइपिंग में एक मिनट में 30 शब्द लिखने की अनिवार्यता है। इसलिए परीक्षार्थियों के लिए जरूरी है कि अगर वे इस चरण की परीक्षा में भाग लेना चाहते हैं तो अपनी टाइपिंग स्पीड को मेंटेन करें।

सभी प्रदेशों में है आयोग

एसएससी यानी कर्मचारी चयन आयोग वैसे तो केंद्र सरकार के अधीन है, लेकिन भारत के लगभग सभी प्रदेशों के लिए अलग-अलग कर्मचारी चयन आयोग का गठन किया गया है। कर्मचारी चयन आयोग का काम परीक्षा को निष्पक्ष तरीके से आयोजित कराना है।

प्रदेश सरकारें भी इसके लिए मदद करती हैं। पुलिस प्रशासन के साथ ही शासन स्तर पर भी इसके लिए मदद दी जाती है। कर्मचारी चयन आयोग की कोशिश होती है कि परीक्षा में किसी तरह की नकल न हो सके। पेपर आउट वगैरह की शिकायत भी न मिलने पाए।

About Mohd. razi

हिंदी पत्रकारिता में 14 वर्ष का अनुभव। दैनिक जागरण और अमर उजाला में काफी वक्त दिया।

Check Also

bssc

बीएसएससी भर्ती 2019 । Bssc recruitment 2019

बिहार कर्मचारी चयन आयोग यानि बीएसएससी ने बड़े पैमाने पर भर्ती के लिए आवेदन पत्र …