Home / Sex problem / सेक्स में घट रही रुचि तो क्या करूं? What should I do if I am losing interest in sex?

सेक्स में घट रही रुचि तो क्या करूं? What should I do if I am losing interest in sex?

नौकरीपेशा लोग हों या बिजनेस मैन। हर किसी के साथ आज कल एक ही समस्या है। अगर किसी से सेक्स लाइफ के बारे में बात की जाए तो वह चेहरे से भले ही खुद को संतुष्ट दिखाने की कोशिश करे लेकिन हकीकत इसके उलट होती है। एक सर्वे में सामने आया है कि 70 प्रतिशत लोग अपनी सेक्स लाइफ से संतुष्ट नहीं हैं। वे न तो अपने पार्टनर को संतुष्ट कर पा रहे हैं, न ही टाइम दे पा रहे हैं।

sex

अगर आप भी ऐसे ही लोगों में शुमार हैं तो यह आर्टिकल आपके लिए ही है। अगर सेक्स के प्रति आपका रुझान काम के बोझ के तले दबा जा रहा है तो आपकी समस्या का समाधान हमारे पास है। हमने उम्र बढ़ने व काम के बोझ से लोगों के सेक्स के प्रति घटते रुझान के बारे में सेक्सोलॉजिस्ट डॉ. सौरभ टंडन से बात की तो कई चौंकाने वाले तथ्य सामने आए।

डॉक्टर का कहना है कि सेक्स कोई समस्या नहीं है। यह समस्या हमारे दिमाग की उपज होती है। हम मानने लगते हैं कि हमारी सेक्स पावर घट रही है और सेक्स को समय देने से काम प्रभावित होगा। हम आपके सामने लक्षणों को रखेंगे। अगर आप इन समस्याओं से दो, चार हो रहे हैं तो हमारे साथ बने रहिए। इसी आर्टिकल में आपकी सेक्स प्राब्लम का समाधान भी मिलेगा।

सेक्स में रुचि घटने की प्रमुख वजहें । Major reasons for decreased interest in sex

सेक्स के प्रति रुचि घटने की सबसे बड़ी वजह थकान होती है। नौकरी पेशा युवा हों या बिजनेस मैन। लोग पैसे बनाने के चक्कर में दिन के 16 से 18 घंटे बिता देते हैं। जब वे अपने पार्टनर के साथ होते हैं तो भी दिमाग में काम ही घूम रहा होता है। सेक्स के लिए मन हां बोलता है लेकिन शरीर जवाब देने लगता है। ऐसे में लोग न तो खुद ही संतुष्ट हो पाते हैं और न ही अपने पार्टनर को संतुष्ट कर पाते हैं। अगर ऐसा आपके साथ हो रहा है तो जवाब भी जान लीजिए।

सेक्सोलॉजिस्ट डॉक्टर सौरभ टंडन का कहना है कि जिस तरह जीवन में खाना जरूरी होता है, नित्य क्रिया जरूरी होती है, सोना जरूरी होता है, वही स्थान सेक्स का भी है। कई लोग केवल सेक्स के बारे में ही सोचते रहते हैं तो कुछ के पास इसके लिए वक्त ही नहीं होता। लोग काम के समय को सेक्स की बातों में बर्बाद कर देते हैं तो जब सेक्स की बारी आती है तो ठंडे हो जाते हैं।

ऐसा केवल मानसिक थकान के कारण होता है। दिमाग थक चुका होता है तो वह शरीर को सही संकेत नहीं देता। घर पर पार्टनर के साथ आप अकेले हों तब भी इच्छा होती है कि सो जाएं या अगले दिन के प्रोजेक्ट को अभी तैयार कर लें। ऐसी हरकतें बेवफाई को जन्म देती हैं और परिवार टूटते हैं। इसलिए जिस तरह आप खाने, नहाने, फ्रेश होने व नौकरी को टाइम देते हैं, उसी तरह पार्टनर व सेक्स के लिए भी समय निकालें। यह कैसे होगा? इसका जवाब भी हम आपको दे देते हैं।

सेक्स समस्याओं को लेकर डॉक्टर की सलाह । Doctor’s advice regarding sex problems

  • सेक्स के प्रति सबसे अधिक रुचि या अरुचि 40 की उम्र के आसपास होती है। या तो व्यक्ति सेक्स के बारे में अत्यधिक सोचने लगता है या इससे दूरी बना लेता है। दोनों ही बातें ठीक नहीं हैं। अति किसी भी चीज की नहीं होनी चाहिए।
  • अगर आप दिन में काम से थक गए हैं तो घर पर पहुंचने के बाद कुछ देर रिलैक्स करें। ऑफिस को ऑफिस में ही छोड़कर आएं। घर पर ऑफिस को न लेकर आएं। इस बात को अच्छी तरह से जान लें कि आपकी पत्नी या पार्टनर को ऑफिस के काम से कोई मतलब नहीं होता। आप ऑफिस की टेंशन घर पर लेकर आएंगे तो दूरियां बढ़ेंगी।

यह भी पढ़ें : लड़कियों को इंप्रेस करने के तरीके

  • थके हुए हों तो नहाकर थकान को दूर कर लें। कुछ समय अपने पार्टनर के साथ बिताएं। उससे बातें करें। बातें काम की नहीं होनी चाहिए। आप रोमांटिक रहें और पार्टनर की खूब तारीफ करें। उसे इस बात का अहसास दिलाएं कि जीवन में उससे ज्यादा महत्वपूर्ण आपके लिए कोई नहीं है।
  • आप खाना खाने के बाद ही सेक्स करें। खाने के बाद कम से कम आधे घंटे रेस्ट करें। इसके बाद सेक्स करें। इससे पेट को भी आराम मिल जाएगा और सेक्स का आनंद भी उठा सकेंगे।
  • सेक्स से पहले फोर प्ले बहुत जरूरी है। अगर आपको शीघ्र पतन की समस्या महसूस होती है तो फोर प्ले आपकी समस्या का समाधान कर सकता है।
  • दवाओं के चक्कर में कतई ना पड़ें। सेक्स पावर बढ़ाने के नाम पर आपको मार्केट में स्ट्रायड वाली फेक दवाएं मिल जाएंगी।
  • इस बात को अच्छी तरह जान लें कि सेक्स के लिए भले ही दूसरे अंगों की जरूरत होती है लेकिन सारा खेल दिमाग का होता है।
  • आपका मन जितना मजबूत होगा, उतना ही आप अपने पार्टनर को संतुष्ट कर पाएंगे। मन से ही सेक्स की लड़ाई जीती है, न कि यौन अंगों से।
  • सेक्स का टाइम कम से कम आधा घंटा जरूर होना चाहिए। इसका अधिकांश समय फोर प्ले का होना चाहिए।
  • आप थक चुके हैं और अगले दिन ऑफिस में बहुत काम है, इस बात को अपने दिमाग में सेक्स के दौरान न आने दें।
  • काम सेक्स के वक्त दिमाग में आया तो आप अपनी सेक्स लाइफ को चौपट कर बैठेंगे और पार्टनर से दूरियां बढ़ेंगी।
  • सेक्स का सबसे बढ़ियां समय होता है, सोने के ठीक पहले का। सेक्स के बाद नींद भी अच्छी आती है।
  • सेक्स के लिए आपको अगर नींद के आधे घंटे कुर्बान करने पड़ते हैं तो बिना संकोच के ऐसा करें। आधे घंटे की कम नींद आपको जिंदगी का सिकंदर बना देगी।
  • 40 साल के कपल को भी हफ्ते में कम से कम दो से तीन बार सेक्स जरूर करना चाहिए। इससे आप खुद को तरोताजा पाएंगे और बेहतर नींद भी आएगी।
  • सेक्स पावर आपके दिमाग से बढ़ती और कम होती है। कोई और कमी आपको सेक्स में कमजोर नहीं साबित कर सकती।
  • अखबारों में छपने वाले सेक्स पावर बढ़ाने के विज्ञापनों और खानदानी दवाखानों के चक्कर में कतई न पड़ें। पैसे आप खर्च कर देंगे लेकिन हासिल कुछ नहीं होगा।
  • अगर वाकई में कोई समस्या है तो सेक्सोलॉजिस्ट या मनोचिकित्सक के पास जाएं और बिना संकोच के बात करें।
  • आप इस बात दिमाग में अच्छी तरह से बैठा लें कि आप दुनिया के सबसे मजबूत आदमी हैं। आपके अंदर अपने पार्टनर को और खुद को संतुष्ट करने की पूरी क्षमता है।
  • आपने दिमाग पर फतेह पा ली तो बिस्तर पर भी आप बाजीगर साबित होंगे।

अगर आपके दिमाग में भी सेक्स को लेकर किसी तरह की शंका है या आप सेक्स से संबंधित किसी समस्या से जूझ रहे हैं तो कमेंट सेक्शन में जाकर हमसे सवाल पूछ सकते हैं। आपके सवाल और डॉक्टर की राय को हम अगले आर्टिकल में रखेंगे। आपके नाम को गुप्त रखा जाएगा।

About Mohd. razi

हिंदी पत्रकारिता में 14 वर्ष का अनुभव। दैनिक जागरण और अमर उजाला में काफी वक्त दिया।

Check Also

sex problem

पत्नी की इच्छाएं पूरी नहीं कर पा रहा हूं, क्या करूं? । I am not able to fulfill my wife’s wishes, what should I do?

भागदौड़ से भरी जिंदगी में अक्सर लोगों को पत्नी के सामने शर्मिंदा होना पड़ता है। …