Home / Voter Id / वोटर आईडी कार्ड में कनेक्शन कैसे करवाएं | If mistake in the voter ID card in hindi

वोटर आईडी कार्ड में कनेक्शन कैसे करवाएं | If mistake in the voter ID card in hindi

nsvpवोटर आईडी बनवाना अब काफी आसान हो गया है। ऑनलाइन व ऑफलाइन ऑप्शन आपके सामने हैं। ऑनलाइन से काम फटाफट हो जाता है और ऑफलाइन बनवाने के भी कई तरीके हैं। वोटर आईडी कार्ड आप जिला निर्वाचन अधिकारी के कार्यालय से जाकर बनवा सकते हैं। वोटर आईडी कार्ड बनाने के लिए आपके एरिया में कैंप भी लगाया जाता है।

इसकी जानकारी आपको समय-समय पर अखबारों के माध्यम से भी दी जाती है। आपको सिर्फ आधार कार्ड या पते व पहचान के प्रमाण पत्र के साथ वहां पर जाना होगा। आपकी फोटो खींची जाएगी और ऑनलाइन फार्म भर दिया जाएगा। दो से तीन महीने के भीतर रंगीन वोटर आईडी आपके घर पर पहुंचा दिया जाएगा। है न काफी आसान काम।

वोटर आईडी कार्ड जितनी तेजी के साथ बनाया जाता है, उतनी ही तेजी से उसमें गड़बडिय़ां भी हो जाती हैं। हो सकता है कि नाम गलत हो जाए। नाम सही होगा तो पता या पिता के नाम में गड़बड़ी हो सकती है। सब कुछ सही हो तो हो सकता है कि आपके पहचान पत्र पर फोटो किसी और की लगा दी जाए।

पहले इस तरह की गड़बडिय़ां ज्यादा होती थीं। अब गलतियों की संख्या कम हो गई लेकिन खत्म नहीं हुई है। अगर आपके भी वोटर आईडी कार्ड में कोई गलती हो गई है तो आप क्या करेंगे। क्या कहा, नहीं पता। नहीं जानते तो कोई बात नहीं। आप आसानी से वोटर आईडी कार्ड में सुधार करवा सकते हैं।

इसके लिए आप ऑनलाइन या ऑफालाइन में से कोई एक विकल्प चुन सकते हैं। बस आपके पास वह प्रमाण पत्र होने चाहिए जिससे पता चल जाए कि गलती कहां हुई है और क्या सुधार करना है। चलिए वोटर आईडी कार्ड की गलतियों में सुधार करवाने की प्रक्रियाओं के बारे में जान लीजिए।

वोटर आईडी कार्ड में करेक्शन की ऑनलाइन प्रक्रिया

  1. सबसे पहले चुनाव आयोग की अधिकारिक वेबसाइट एनपवीएसपी.इन पर जाएं।
  2. आपको मेन पेज पर ही करेक्शन का ऑप्शन नजर आएगा। इसको क्लिक कर दें।
  3. क्लिक करते ही फार्म नंबर 8 खुलकर कंप्यूटर के स्क्रीन पर आ जाएगा।
  4. फार्म में आपको राज्य, विधानसभा, संसदीय निर्वाचन क्षेत्र, नाम, पता, पिता नाम दर्ज करना होगा।
  5. इसके बाद आपको मतदाता पहचान पत्र संख्या, जारी होने की तिथि, जारी करने वाला स्थान भरना होगा।
  6. फार्म के साथ अपनी नई रंगीन पासपोर्ट साइज फोटो, गलत वोटर आईडी कार्ड, पहचान, पते व जन्म तिथि की सही आईडी को अपलोड करना होगा। आईडी आधार हो तो बेहतर होगा।
  7. इसके बाद आपको उस विवरण को भरना होगा जो कि गलत है। जैसे कि नाम, पता, उम्र या पिता का नाम।
  8. उदाहरण के लिए नाम में गलती हो तो नेम करेक्शन, पते में गलती हो तो एड्रेस करेक्शन को क्लिक करें।
  9. इसमें आपको सही नाम, पता, पिता का नाम व उम्र को भरना होगा।
  10. सबसे आखिर में उस शहर का नाम भरें जहां के आप मतदाता है।
  11. इसके बाद आपको मोबाइल नंबर व ईमेल एड्रेस को भरना होगा।
  12. सारी सूचनाओं को भरने के बाद सबमिट बटन को क्लिक कर दें। आपके कंप्यूटर के स्क्रीन पर सक्सेसफुल सबमिशन का मैसेज आ जाएगा।
  13. अगर कहीं गलती होगी या कोई कॉलम छूट गया होगा तो फिर से ट्राई करने का मैसेज आएगा।
  14. आप आईडी के रूप में आधार के अलावा पासपोर्ट, पैन कार्ड को अपलोड कर सकते हैं।
  15. फार्म जमा होने की सूचना आपके मोबाइल व ईमेल एड्रेस पर भेज दी जाएगी।
  16. आप फार्म का प्रिंट निकालें और इसके साथ सारे दस्तावेजों की फोटो स्टेट लगाकर जिला निर्वाचन अधिकारी के कार्यालय में भी जमा कर दें। फोटो व गलत आईडी लगाना न भूलें।
  17. चुनाव आयोग आपके आवेदन की जांच करवाएगा। जानकारियां सही होने पर वोटर लिस्ट व आईडी कार्ड में सुधार कर दिया जाएगा।
  18. सुधार की सूचना भी आपको मोबाइल व ईमेल पर मिल जाएगी।
  19. फार्म भरते वक्त आपको नामांकन नंबर भी मिलेगा। इसको सुरक्षित रखें।
  20. नामांकन नंबर के जरिए ही आप ट्रैक कर सकेंगे कि आईडी में सुधार हुआ है कि नहीं।
  21. नए वोटर आईडी कार्ड को आपके घर पहुंचाने की जिम्मेदारी बीएलओ की होगी।
  22. अगर कार्ड महीने भर के भीतर घर पर न पहुंचे तो आप जिला निर्वाचन अधिकारी के कार्यालय में जाकर शिकायत दर्ज करवा सकते हैं।
  23. आपको कार्यालय से पता चल जाएगा कि कनेक्शन हुआ है कि नहीं। हो गया है तो कार्ड कहां पर है।
  24. अगर बीएलओ को कार्ड मिल गया होगा तो यह भी आपको बता दिया जाएगा।
  25. आपको कार्यालय से ही बीएलओ का मोबाइल नंबर भी मिल जाएगा। आप नंबर से बीएलओ से संपर्क कर सकते हैं।

ऑफलाइन प्रक्रिया | Offline process

  • आप चुनाव आयोग की वेबसाइट से फार्म नंबर आठ को डाउनलोड कर सकते हैं।
  • कंप्यूटर का इस्तेमाल नहीं करना आता है तो जिला निर्वाचन अधिकारी के कार्यालय पर चले जाएं।
  • वहां से आपको फार्म नंबर आठ मिल जाएगा। आप इस फार्म को ठीक तरीके से भर दें।
  • आपको फार्म में नाम, पता, पिता का नाम, उम्र को दर्ज करना होगा।
  • फार्म में ही आपको एक कॉलम मिलेगा जिसमें आपको बताना होगा कि गलती कहां हुई है।
  • यदि नाम गलत है तो वहां पर सही नाम दर्ज करें। पता गलत है तो पते के कॉलम में सही पता लिखें।
  • फार्म में आपको वोटर आईडी कार्ड का नंबर, राज्य, लोकसभा व विधानसभा क्षेत्र का भी जिक्र करना होगा।
  • फार्म में अपनी नवीनतम पासपोर्ट साइज फोटो को लगाएं। आपको इसके साथ आईडी भी लगानी होगी।
  • आईडी आधार कार्ड के अलावा पासपोर्ट, एलआईसी पॉलिसी, पैन कार्ड भी हो सकती है। आधार कार्ड लगा होगा तो सबसे बेहतर।
  • फार्म को जिला निर्वाचन कार्यालय में जाकर जमा करा दें। वहां से रिसीविंग स्लिप लेना न भूलें।
  • आप रिसीविंग स्लिप में मिले नंबर से करेक्शन का स्टेटस ऑनलाइन चेक कर सकेंगे।
  • स्टेटस चेक करने के लिए आपको चुनाव आयोग की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • ऑफलाइन फार्म जमा करने पर आपको संशोधित वोटर आईडी प्राप्त करने में काफी समय लग सकता है। यह अवधि तीन महीने या इससे अधिक भी हो सकती है।
  • अगर ऑनलाइन इन्फार्मेशन न मिले तो आपको जिला निर्वाचन अधिकारी के कार्यालय का चक्कर लगाना पड़ेगा।
  • रिसीविंग स्लिप देकर निर्वाचन कार्यालय का कर्मचारी आपको यह बता देगा कि करेक्शन के लिए दिया गया फार्म इस वक्त कहां है।
  • आपको यह भी पता चल जाएगा कि कार्ड कितने दिन में आपके घर के पते पर पहुंच जाएगा।
  • कार्ड को आपके पास पहुंचाने का जिम्मा बीएलओ का होगा।
  • अगर कार्ड तैयार हो गया तो यह भी आपको पता चल जाएगा।
  • कार्ड बीएलओ के हाथ में पहुंच गया है तो यह जानकारी भी आपको दे दी जाएगी।
  • आप बीएलओ का नंबर जरूर लेकर आएं। उसको फोन करें और कार्ड की मांग करें।
  • बीएलओ आपको अपने एरिया के आसपास मिल सकता है। आप उसको अपने घर पर भी बुला सकते हैं।
  • वोटर आईडी कार्ड को दुरुस्त करने के साथ ही वोटर लिस्ट को भी दुरुस्त कर दिया जाएगा।
  • आप अगली बार वोट डालने जाएंगे तो आपको नाम, पता, पिता का नाम व उम्र सही मिलेगी।

About Ashutosh Srivastava

हिंदी पत्रकारिता में 21 वर्ष का अनुभव। दैनिक जागरण और अमर उजाला में लंबा समय दिया।

Check Also

voter

वोटर लिस्ट में नाम कैसे सर्च करें । How to search name in voter list in hindi

पांच साल में एक बार ऐसा मौका आता है जब नेता आपके चरणों में होते …